# क्रीमी लेयर के बहाने पदोन्नति में आरक्षण बंद नहीं कर सकते : मोदी सरकार          # मध्यपूर्व के लिए अमेरिकी शांति योजना स्वीकार्य नहीं : अब्बास         # पहले नोटबंदी फिर जीएसटी ने जनता की कमर तोड़ी : हुड्डा         # स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के खिलाफ कोर्ट पहुंचे सांसद दुष्यंत          # 300 से ज्यादा दलित परिवारों ने अपनाया बौद्ध धर्म         # भारत को विदेश में पहली बार जीत दिलाने वाले कप्तान अजीत वाडेकर का निधन         # नहीं रहे अटल बिहारी वाजपेयी , देश भर में शोक की लहर          # वाजपेयी के निधन पर बोले पीएम मोदी- मैं नि:शब्द हूं, शून्य में हूं         # 93 साल की उम्र में वाजपेयी का निधन, देशभर में शोक की लहर          # थोड़ी देर में अटल का पार्थिव ले जाया जाएगा कृष्णा मेनन मार्ग ते आवास पर         # वाजपेयी का निधन देश, राजनीति और भाजपा के लिए एक अपूर्णीय क्षति - मुख्यमंत्री मनोहर लाल        
News Description
सोनीपत की टीम ने दिल्ली में किया लिंग जांच का भंडाफोड़

 सोनीपत : जिले की पीएनडीटी टीम ने एक बार फिर अंतरराज्यीय छापेमारी में सफलता हासिल की है। इस बार टीम ने दिल्ली के सरिता विहार में ¨लग जांच का भंडाफोड़ किया है। यहां टीम ने नकली ग्राहक भेजकर तय सौदा के 20 हजार रुपये बरामद किए हैं। साथ ही मशीन को सील कर पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

जिला पीएनडीटी अधिकारी डॉ. आदर्श शर्मा को सूचना मिली थी कि दिल्ली के सरिता विहार स्थित राजधानी नर्सिंग होम में अवैध रूप से ¨लग जांच का धंधा चल रहा है। सूचना के आधार पर उन्होंने अपनी टीम के साथ एक नकली ग्राहक को तैयार किया। इसके बाद टीम दिल्ली पहुंची। टीम ने दिल्ली के प्रशासनिक अधिकारियों से संपर्क कर पुलिस का सहयोग लिया। वहीं नर्सिंग होम में छापेमारी के लिए महिला को ग्राहक बनाकर भेजा। नर्सिंग होम में महिला से ¨लग जांच करने के लिए 20 हजार रुपये में सौदा हुआ। यहां डॉ. मनोज के साथ एक मेडिकल स्टोर संचालक विजय तथा महिला चतुर्थ कर्मचारी थी। ग्राहक बनकर गई महिला ने जैसे ही उन्हें ¨लग जांच करने के पैसे दिए, उसी समय पीएनडीटी की टीम मौके पर पहुंची। टीम ने डॉ. मनोज के पास से दो-दो हजार के पांच नोट बरामद किए। वहीं 10 हजार मेडिकल स्टोर संचालक विजय से मिले।

इसके बाद पीएनडीटी की टीम ने अल्ट्रासाउंड मशीन को सील कर दिया और पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने शिकायत पर मामला दर्ज कर तीनों को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है। टीम में डॉ. अनुश्री, डॉ. ललित समेत अन्य कर्मी मौजूद रहे