# क्रीमी लेयर के बहाने पदोन्नति में आरक्षण बंद नहीं कर सकते : मोदी सरकार          # मध्यपूर्व के लिए अमेरिकी शांति योजना स्वीकार्य नहीं : अब्बास         # पहले नोटबंदी फिर जीएसटी ने जनता की कमर तोड़ी : हुड्डा         # स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के खिलाफ कोर्ट पहुंचे सांसद दुष्यंत          # 300 से ज्यादा दलित परिवारों ने अपनाया बौद्ध धर्म         # भारत को विदेश में पहली बार जीत दिलाने वाले कप्तान अजीत वाडेकर का निधन         # नहीं रहे अटल बिहारी वाजपेयी , देश भर में शोक की लहर          # वाजपेयी के निधन पर बोले पीएम मोदी- मैं नि:शब्द हूं, शून्य में हूं         # 93 साल की उम्र में वाजपेयी का निधन, देशभर में शोक की लहर          # थोड़ी देर में अटल का पार्थिव ले जाया जाएगा कृष्णा मेनन मार्ग ते आवास पर         # वाजपेयी का निधन देश, राजनीति और भाजपा के लिए एक अपूर्णीय क्षति - मुख्यमंत्री मनोहर लाल        
News Description
मरीजों को मिलेगा स्वच्छ पानी, आरओ प्लांट पर खर्च होंगे आठ लाख

सोनीपत : नागरिक अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीजों को जल्द ही स्वच्छ पानी मिलेगा। अस्पताल प्रशासन द्वारा अस्पताल परिसर में करीब सात साल से बंद पड़े आरओ प्लांट पर आठ लाख रुपये खर्च किया जाएगा।

आरओ प्लांट की मरम्मत का कार्य अधिकारियों द्वारा सौंपा जा रहा है। अधिकारियों के अनुसार 15 दिन में आरओ प्लांट से अस्पताल में पानी सप्लाई की जाएगी।

नागरिक अस्पताल में पानी की किल्लत दूर करने के लिए वर्ष 2010 में एक बड़ा आरओ प्लांट लगाया गया था। इससे अस्पताल परिसर में शुद्घ पानी मुहैया कराना था। हालांकि उस समय अस्पताल में मरीजों की भी संख्या कम थी, लेकिन अब अस्पताल को 200 बेड का करने के साथ ओपीडी भी प्रतिदिन करीब 1200 तक पहुंच गई है। ऐसे में अस्पताल में हर रोज करीब दो हजार लोगों का आना होता है। अस्पताल में करीब 50 लाख से लगे आरओ में शुरुआती चरण में ही खराबी आ गई थी। इसके बाद से आज तक यह आरओ प्लांट बंद पड़ा है। इस कारण अस्पताल में आने वाले मरीजों को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। गर्मी के सीजन में समस्या और भी बढ़ जाती है, जिससे मरीजों को पानी खरीदकर भी पीने के लिए मजबूर होना पड़ता है। इसकी तरफ अस्पताल प्रशासन की ओर से भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा था। मरीजों की इस परेशानी को देखते हुए दैनिक जागरण ने इसका सितंबर माह में प्रमुखता से मुद्दा उठाया था। अब अस्पताल प्रशासन ने आरओ प्लांट की मरम्मत करने का फैसला लिया है।