हरियाणा में खेलों के स्वर्ण पदक विजेता को मिलेगा अब एचसीएस और एचप�         # बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी के घर पर सीबीआई का छापा         # विपक्ष के खिलाफ सरकार धरने पर, मोदी समेत BJP सांसद भूख हड़ताल पर         # 50 मीटर एयर रायफल में तेजस्विनी ने जीता सिल्वर मेडल          # बजट सत्र समाप्त, लोकसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित...         # तकनीकी वजह से मेट्रो रेल सेवाएं प्रभावित...          # लिवरपूल ने 10 साल बाद सेमीफाइनल में बनाई जगह...          # स्वर साम्राज्ञी लता ने राज्यसभा के वेतन का चेक तक नहीं छुआ!...          # देश में नेशनल चिल्ड्रेन ट्रिब्यूनल की जरूरत : कैलाश सत्यार्थी         # 2022 तक हिमाचल को जैविक राज्य बनाने का लक्ष्य: डॉ. मार्कंडेय...          # छात्रों की करियर कौंसलिंग हेतु तैयार की जा रही योजना: अनुराग...          # सरकार द्वारा गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों को नोटिस, बिफरे प्राईवेट स्कूल संघ संचालक...          # शहीदी स्मारक के लिए 25 को जारी किए जाएंगे टैंडर : स्वास्थ्य मंत्री         # पंजाब को केन्द्र सरकार का तोहफा, मोहाली मेडिकल कॉलेज को मिली हरी झंडी         # पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पंजाब विश्वविद्यालय को 3,500 किताबें दान की...         # मुख्यमंत्री ने मांगी बटाला शुगर मिल के बारे में प्रोजेक्ट रिपोर्ट...          # बीएसएफ ने ढेर किया पाकिस्तानी तस्कर, 20 करोड़ की हेरोइन बरामद...          # अल्जीरिया का मिलिटरी प्लेन क्रैश, 257 से ज्यादा लोगों के मरने की आशंका...          हरियाणा में अब तक डेढ़ करोड़ एलईडी बल्ब वितरित...          भारत बंद : हिंसक घटनाओं की जांच के लिए हरियाणा में गठित होगी कमेटी...          प्रदेश की मंडियों में 16.66 लाख टन गेहूं की आवक...          राष्ट्रमंडल खेल: फाइनल में पहुंचे मुक्केबाज मनीष के घर में खुशी का माहौल...          सांसद दुष्यंत ने मंत्री विज को भेजा मानहानि का नोटिस...          फर्जीवाड़ा कर पेंशन लेने वालों से होगी 50 प्रतिशत की वसूली: खट्टर...          किसानों को राहत, बारिश से खराब फसलों की होगी स्पेशल गिरदावरी ..         आटो में छेड़छाड़ करने पर महिला कराटे चैंपियन ने की ट्रैफिक पुलिसकर्मी की धुनाई, घसीट कर ले गई थान         मुझे सरकार चलाना न सिखाएं सुखबीर : कैप्टन         वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने बांटी 65 लाख की ग्रांटें...         
News Description
किठाना-कलायत-तितरम मोड़ थे संवेदनशील 11 नाके में हरेक पर तैनात रहे 20-30 कर्मी

जींदमेंसांसद राजकुमार सैनी जसिया में जाट नेता यशपाल मलिक की रैली के बाद जिले में स्थिति डगमगाने का खतरा था, लेकिन पुलिस के पुख्ता प्रबंध के कारण बचाव रहा। आशंका जताई जा रही थी कि कलायत में झगड़ा हो सकता है और किठाना में रोड जाम कर सकते है। किठाना, कलायत के साथ तितरम मोड़ पर भारी पुलिस बल तैनात कर स्थिति को बिगड़ने नहीं दिया गया। 

11 जगहों पर नाके लगाए गए। ऐसा करने के लिए एसपी, चार डीएसपी, 10 इंस्पेक्टर अन्य छह इंचार्जों के नेतृत्व में 930 पुलिस कर्मी ड्यूटी पर तैनात रहे। इन्होंने किसी भी रुट पर जाने वाले वाहन को नहीं रोका, पर कहीं पर लोगों को इकट्ठे नहीं होने दिया। सुबह से इसी प्रक्रिया में जुटते हुए दिनभर व्यवस्था बनाए रखी। प्रशासन की 10 टीमों ने भी अपने-अपने क्षेत्रों में रहकर सूचनाएं इकट्ठी की।

जिले के अलग-अलग गांवों से जींद जसिया रैली के लिए रवाना हुआ। गाड़ियों पर होर्डिंग, बैनर भी लगे हुए थे। कुरुक्षेत्र, अम्बाला यमुनानगर जिलों से भी रैली के लिए लोग गए। शाम 6 बजकर 28 मिनट पर शुरू इंटरनेट हुआ। 

एडीसीएसपी ने किया किठाना कलायत का दौरा :एडीसी कैप्टन शक्ति सिंह एसपी आस्था मोदी ने किठाना कलायत का दौरा किया। सभी नाकों से सूचनाएं प्राप्त की। कंट्रोल रूम से हर 60 मिनट यानी एक घंटे के बाद हर राइडर, पीसीआर नाकों से रिपोर्ट हासिल की गई। 

किठानाकलायत में लगा रखे थे 200 जवान :किठाना कलायत में 200-200 जवानों को तैनात किया हुआ था। इसके अलावा 11 नाकों पर 20 से 30 कर्मी तैनात रहे। 930 कर्मियों में 55 होमगार्ड, 110 एसपीओ भी शामिल रहे। उधर प्रशासन की और से ग्राम सचिवों पटवारियों को लगाए हुआ था। जिले में व्यवस्था बनाए रखने कानून का पालन करने के लिए करीब 2200 अधिकारी-कर्मचारी ड्यूटी पर मुस्तैद रहे। 

कहीं भी जाने से नहीं रोके वाहन 

^उन्होंनेकिसी भी वाहन को कहीं जाने से नहीं रोका। रैली में जाने वालों को इकट्ठा होने के लिए कहा था। सभी अपने निर्धारित स्थल से बिना रुके ही निकले। आस्थामोदी, एसपी 

शांति बनाए रखने में लोगों का मिला सहयोग 

^जिलेमें पूरी तरह शांति रही। सभी अधिकारी कर्मचारी अपने ड्यूटी पर ईमानदारी निष्ठा से रहे। शांति बनाए रखने में जिले के लोगों ने प्रशासन को पूरा सहयोग किया। सुनीतावर्मा, डीसी 

जिले के सभी ग्राम सचिवों पटवारियों ने अपने-अपने गांव में डेरा डाला हुआ था। गांव की सूचनाओं को अपने ड्यूटी मजिस्ट्रेट तक पहुंचा रहे थे। इसके अलावा उन्होंने पंचायत करके मौजिज लोगों को शांति बनाए रखने की अपील भी की। हर