News Description
दहेज में लंगूर देना पड़ा महंगा, मामला दर्ज

फतेहाबाद : कहते है ना, दहेज लेना व देना गलत है। उपहार चाहे जो भी हो। ऐसा ही टोहाना के संजय पूनिया के साथ हुआ है। उन्हें अपने ससुरालवालों से बंदरों से अपना बचाव के लिए उपहार स्वरूप लंगूर मिला था। वैसे लंगूर तो उन्होंने अपनी बंदरों के सुरक्षा को लेकर लिया था, लेकिन अब उनके साथ उनके ससुरालवालों के खिलाफ वन्य प्राणी विभाग ने मामला दर्ज कर लिया। विभाग की मानें तो लंगूर वन्य प्राणी शेड्यूल दो में आता है। इन्हें घर में बंधक बनाकर रखने पर सात साल तक की सजा हो सकती है, जुर्माना भी अलग से लगता है।