News Description
अतिक्रमणकारियों पर मेहरबान नप व पुलिस

फतेहाबाद : शहर में ऐसी कोई जगह नहीं है जहां अतिक्रमण न हो। नगरपरिषद के अधिकारियों के पास अगर शिकायत आ जाए तो अतिक्रमण हटाने के नाम पर इतिश्री कर ली जाती हैं। वहीं नेशनल हाइवे पर फुटपाथ पर दुकानदारों ने सामान रखकर अतिक्रमण कर रखा है। शाम के समय में तो स्थिति यह हो जाती है कि लंबा जाम लग जाता है। ऐसे में मजबूर पुलिस को चालान काटने पड़ते हैं। अगर पुलिस सड़कों पर खड़े होने वाले वाहनों को हटवा ले तो जाम भी नहीं लगेगा और पैदल चलने वाले लोगों को फायदा होगा। पिछले दो सालों में एक भी दुकानदार को अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस तक नहीं थमाया गया है। दो साल पहले उस समय के ईओ ओपी सिहाग ने पूरे शहर के 300 से अधिक दुकानदारों को नोटिस जारी कर जुर्माना लगाया था। लेकिन उसके बाद से ऐसा कुछ नहीं है। दुकानदार अपनी मनमर्जी चला रहे हैं। पूरे शहर की सड़कें इस समय अतिक्रमणकारियों की भेंट चढ़ी हुई है। हंस मार्केट से लेकर पूरा थाना रोड वहीं नेशनल हाइवे के दोनों ओर दुकानदारों ने सामान रखकर अतिक्रमण कर रखा है। अतिक्रमण होने के कारण पैदल चलने वालों को परेशानी होती है।