Main News Description
धरने पर डटे रिटायर्ड कर्मचारी, आज करेंगे प्रदर्शन

करनाल( आशुतोष गौतम) : रिटायर्ड कर्मचारी संघ के बैनर तले सेवानिवृत कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लागू करवाने की ठान ली है। तीन दिनों से कर्मचारी जिला सचिवालय के सामने धरने पर बैठे हैं। बुजुर्गों का कहना है कि सरकार उनके साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। मांगें मानने के बावजूद लागू नहीं की गई। केवल आश्वासन देकर उन्हें गुमराह करने का काम किया गया। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि जहां तक हरियाणा रोडवेज की बस जाती है उन बसों में आधा किराया लेना 60 वर्ष की आयु से शुरू किया जाए। प्राइवेट स्कूल, कालेज, विश्वविद्यालयों व नगर निगमों से रिटायर कर्मियों को भी लीव इन्कैशमेंट समेत पूरे पेंशन लाभ दिए जाएं। संघ की 15 मांगें हैं, जिनमें मुख्य तौर पर मेडिकल भत्ता तीन हजार रुपए मासिक देना, आयु के अनुसार पेंशन में बढ़ोतरी करना, कैशलेस मेडिकल सुविधा देना, नई पेंशन स्कीम समाप्त कर पुरानी पेंशन स्कीम लागू की जाए। इसके अलावा रिटायर्ड कर्मचारियों पर भी वन रैंक वन पैंशन का फार्मूला लागू हो। कर्मचारी सात दिसंबर को प्रदर्शन करेंगे और डीसी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा। बुधवार को नीलोखेड़ी ब्लाक से कर्मचारी धरना देने पहुंचे। अध्यक्षता ब्लाक प्रधान बाबूराम ने की व संचालन निसिंग ब्लाक प्रधान रांझा राम ने किया। इस अवसर पर राज्य उप महासचिव वाइपी यादव, राज्य कार्यकारिणी सदस्य धीरज सिंह रावत, जिला प्रधान सियानंद परोचा, जिला सचिव दुलीचंद चौहान, सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान ओमप्रकाश सिहमार, ब्लाक करनाल प्रधान हरिशंकर पांडे, ब्लाक सचिव जयभगवान शर्मा, भोपाल सिंह आर्य, ओपी बक्शी, मिड डे मील वर्कर यूनियन प्रधान शिमला देवी, आशा वर्कर यूनियन प्रधान सुदेश रानी, मास्टर बलराज, जय सिंह वैद, भीम सिंह नरवाल व बलकार सिंह ने भी कर्मचारियों को संबोधित किया। धरने पर वरिष्ठ उपप्रधान सेंसरपाल, उपप्रधान प्रेम चंद तोमर, जय सिंह वैद, गिरधारीलाल, कश्मीर सिंह, सतीचंद, पुरुषोत्तम चंद पठानिया, गुरनाम सिंह, कृष्ण शर्मा, महेंद्र मान, प्रकाश चंद, प्रताप चंद, शिमला देवी, ताराचंद सैनी, काका राम सैनी, चंदगी राम, शमशेर संधु, धर्मपाल, भीम सिंह नरवाल, सौंकार सिंह नेगी, देसराज, बलराज, सतपाल सैनी, सुलतान सिंह, सतपाल, बिल्लू, पूर्णचंद, नंद किशोर, राम लुभाया, राकेश कुमार, भाग सिंह, कुलदीप, जोगिंद्र सिंह राणा, सुनीता पांचाल, ओमप्रकाश माटा, शामलाल, रामेश्वर दास, विक्रमजीत त्यागी, बीर सिंह, किशोरी लाल, सोहन लाल, कीडूुराम, जयपाल बागड़ी, राजबीर, सुरेश पाल, मनोज कुमार, सत्यपाल, जेके सैन, रमनचंद, बनवारी लाल शर्मा व बलवंत सिंह मौजूद रहे।