Main News Description
गुड़गांव मर्डर:पिता ने उठाए फॉरेंसिक टीम की जांच पर सवाल

गुड़गांव. रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे के मर्डर के मामले में फॉरेंसिक टीम बुधवार को फिर एकबार सबूत जुटाने स्कूल पहुंची है। उधर, आरोपी बस कंडक्टर का डीएनए सैम्पल जांच के लिए करनाल भेजा गया है। वहीं, बच्चे के पिता ने जांच पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि अगर जांच सही हो रही होती तो मुझे सुप्रीम कोर्ट नहीं जाना पड़ता। मंगलवार को बच्चे की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी आई।

पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर्स की टीम में से एक दीपक माथुर ने कहा कि बच्चे के साथ सेक्शुअल असॉल्ट नहीं हुआ था। इस बीच पुलिस ने आरोपी कंडक्टर अशोक से पूछताछ पूरी कर ली है। एसीपी बिरमजीत सिंह ने बताया कि अशोक ने ही बच्चे का मर्डर किया था। बता दें कि गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार को (8 सितंबर) को 7 साल के बच्चे का मर्डर कर दिया गया था। बॉडी टॉयलेट में मिली थी।

पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर्स की टीम ने कहा, "बच्चे के गले पर चाकू के दो निशान मिले हैं।"इससे पहले एसीपी सिंह ने कहा, "कंडक्टर अशोक ने ही बच्चे का मर्डर किया था, इसमें कोई और शामिल नहीं है। पुलिस पूछताछ से पूरी तरह संतुष्ट है। यह क्लियर है कि अशोक ही मर्डर के लिए जिम्मेदार है। अशोक पहले से ही टॉयलेट में मौजूद था। उसी ने बच्चे का मर्डर किया है। स्कूल की लापरवाही एक अलग इश्यू है।"