Main News Description
देश के 13वें उपराष्ट्रपति बने वेंकैया नायडू, नहीं मिलेगी सैलरी

नई दिल्ली  : एम वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को यहां उपराष्ट्रपति पद की शपथ ली। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने उन्हें राष्ट्रपति भवन में एक आकर्षक समारोह में देश के 13वें उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ दिलाई। इस अवसर पर निवर्तमान उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कई केन्द्रीय मंत्री, भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता तथा अन्य गण्यमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

   नायडू ने गत पांच अगस्त को हुए उपराष्ट्रपति पद के चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार के रूप में 18 विपक्षी दलों के उम्मीदवार गोपाल कृष्ण गांधी को हराया था। कुल पड़े 771 वोटों में वेंकैया नायडू को 516 वोट, तो गोपालकृष्ण गांधी के खाते में 244 वोट गए। शपथ ग्रहण से पहले 68 वर्षीय नायडू ने राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धांजलि अर्पित की। 

 उप- राष्ट्रपति पद के लिए सैलरी का कोई प्रावधान नहीं है चूंकि उपराष्ट्रपति राज्यसभा के चेयरमैन भी होते हैं तो उन्हें इस पद के लिए 1 लाख 25 हजार रुपये प्रति माह वेतन मिलेगा। जबकि देश में सांसदों की सैलरी 50 हजार रुपये प्रति माह है।  इसके अलावा उन्हें 2 हजार रुपये का डेली अलाउंस भी मिलता है।