Main News Description
भारतीय सेना के लिए बनेगी सेफ्टी फीचर वाली यूनिफॉर्म-बाजार में नहीं मिलेगी वर्दी

नई दिल्ली: भारतीय फौज की वर्दी पहनकर आतंकी वारदात को अंजाम देने वालों के खिलाफ नई रणनीति तैयार की जा रही है। रणनीति के तहत सेना ने ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए ऐसे पैटर्न और सिक्योरिटी फीचर वाली यूनिफॉर्म बनवाने का फैसला किया है, जिनकी कॉपी करना प्राइवेट इंडस्ट्री के लिए मुश्किल हो। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा कि कपड़ों पर आर्मी के पैटर्न और लोगों की नकल न हो सके, इसका खास ध्यान रखा जाएगा। खास बात यह है कि इस काम में विदेश से कपड़ा मंगाने की जगह देसी इंडस्ट्री की ही मदद ली जाएगी। इसके साथ ही सैनिकों के काम आने वाले कपड़ों और दूसरी असेसरीज को भी आरामदेह बनाने का फैसला किया गया है। भारतीय सेना की मदद के लिए देश की राजधानी में 22 और 23 मई को देसी इंडस्ट्री प्रदर्शनी लगाने जा रही है। इसमें आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत के साथ कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी की मौजूदगी रहेंगी। करीब 40 भारतीय कंपनियां इस प्रदर्शनी में हिस्सा लेने जा रही हैं। इसमें वे सेना के लिए बनाए गए खास कपड़ों और असेसरीज को दिखाएंगी। प्रदर्शनी के साथ एक सेमिनार भी होगा, जिसका विषय 'सैनिकों के लिए बेहतर उत्पादों का स्वदेशीकरण है।