Main News Description
रोहतक गैंगरेप कांड में हरियाणा पुलिस के दो अधिकारी सस्पेंड

चंडीगढ़  : हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध व मिलने वाली शिकायतों पर पुलिस कार्रवाई में किसी भी प्रकार की देरी अथवा लापरवाही सहन नहीं की जाएगी। सोनीपत में संधू ने कहा कि निर्भया मामले में पोस्टमार्टम हाउस में गलत जानकारी दर्ज करवाने पर रोहतक के अर्बन इस्टेट थाने के एएसआई समुंद्र सिंह को भी निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा सिटी थाना सोनीपत के एसएचओ अजय मलिक को भी लाइन हाजिर कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि इन तीनों पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई आरंभ कर दी गई है। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करना हरियाणा पुलिस की प्राथमिकता है। सभी डीएसपी व एसएचओ को निर्देश जारी किए जा चुके हैं कि महिलाओं के खिलाफ अपराध की शिकायत आने पर तुरंत कार्रवाई करें। उन्होंने यह भी बताया कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए टोल फ्री नंबर 1091 जारी किया गया है और इसकी मॉनिटरिंग डीएसपी स्तर के अधिकारी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध को रोकने के लिए हरियाणा पुलिस ने आपरेशन दुर्गा शुरू कर रखा है और यह लगातार जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी महिलाओं के विरूद्ध अपराधों पर नजर रखने के लिए संबंधित एसएचओ को सख्त निर्देश जारी कर रखे हैं।