News Description
सिरसा हाईवे पर ढंढूर के पास वाहनों पर पथराव

हिसार : सिरसा हाईवे पर शुक्रवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे असामाजिक तत्वों ने गांव ढंढूर के पास से गुजरने वाले वाहनों पर पथराव कर दिया। इस दौरान वाहन चालकों में दहशत फैल गई। एक वाहन चालक चोटिल भी हो गया, जिसकी आंख के पास पत्थर लगा था। शुक्र है किसी ने वाहन को रोका नहीं और अनियंत्रित होकर पलटे भी नहीं। सभी चिकनवास गांव स्थित टोल पर जाकर रुके। इस मामले की सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। वाहन चालकों ने कार्रवाई करने के लिए कहा तो जवाब मिला कि घटना सदर थाना इलाके में हुई है। वहां की पुलिस को शिकायत देकर गुहार लगाएं। ऐसे में चालक अपने गंतव्य की ओर चले गए और हिसार वापस लौटने पर पुलिस को जानकारी दी है। डाबड़ा गांव निवासी संदीप ने बताया कि ट्रक में माल लोड करके फतेहाबाद की तरफ जा रहे थे। करीब साढ़े तीन बजे जब सिरसा हाईवे से सटे गांव ढंढूर के सामने से गुजर रहे थे, अचानक पथराव शुरू हो गया। ट्रक के फ्रंट शीशे पर ईंट आकर लगी और वह क्षतिग्रस्त हो गया। हालात को भांपते हुए ट्रक रोकने की बजाए सीधे चलते रहने के लिए चालक को कहा। चिकनवास गांव के पास लगे टोल पर पहुंचने पर सांस ली। वहां उतरकर देखा कि पुलिस मौजूद है। उन्हें घटना से अवगत करवाया। वहां और भी भुगतभोगी छोटे-बड़े वाहन चालक आ गए। एक तो चोटिल था। उन्होंने अपने साथ हुई घटना की जानकारी पुलिस को दी। हालांकि सीमा विवाद में पुलिस ने सुनवाई करने की बजाए सदर थाना पुलिस से संपर्क साधने के लिए कह दिया।

......

आउटर रोड पर फैला है बदमाशों का जाल

पुलिस ने शुक्रवार को रात 10 बजे से तड़के चार बजे तक नाइट डोमिनेशन अभियान चलाया हुआ था। इस दौरान शहर के अंदर से भारी वाहन गुजर रहे थे। उनमें से एक को रोककर ट्रक अंदर से लेकर जाने बारे पूछा तो जवाब मिला कि साहब, आउटर रोड पर बुरा हाल है। वहां से गुजरना सुरक्षित नहीं है। इसलिए मजबूर होकर शहर के भीतर से गुजरते हैं। बीते दिनों ही कुछ लोगों ने ट्रक रुकवाकर रुपये छीन लिए थे। ऐसे में खतरा महसूस होता है, तभी आउटर रोड से रात को गुजरते हुए घबराते हैं। ऐसे में अब वाहनों पर पथराव से जाहिर है कि लूट के इरादे से पथराव किया गया था। वाहन रुके नहीं और बदमाश अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए। अगर हुए तो भी पुलिस तक बहुत कम मामले पहुंच पाते हैं। पुलिस को उक्त मामले देखते हुए साउथ बाइपास और ¨लक रोड पर गश्त बढ़ानी होगी।