News Description
उम्मीद 2018 : रोजगार-स्वरोजगार के मिलेंगे खूब अवसर

गुरुग्राम जनसंख्या नियोजन से आशय एक संगठित प्रयास से हैं, जिससे एक निश्चित अवधि में सुनिश्चित कर सामाजिक-आर्थिक लक्ष्यों की प्राप्ति की जा सके। इस दृष्टि से वर्ष 2018 काफी बेहतर साबित होने वाला है। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार गुरुग्राम की कुल जनसंख्या 15,14432 है। जबकि अनुमान के अनुसार वर्तमान में यह जनसंख्या 26,15,963 तक पहुंच गई है। इसमें युवाओं की संख्या सबसे अधिक है। जिन्हें इस बात का भरोसा है कि उन्हें इस साल रोजगार के भरपूर अवसर मिलने के साथ-साथ स्वरोजगार की सुविधाएं भी सरकार द्वारा दी जाएंगी। गुरुग्राम एक बड़ा औद्योगिक, आइटी और कॉरपोरेट कंपनियों का हब है। यहां देश ही नहीं दुनिया भर के लोगों को रोजगार का अवसर मिला हुआ है, मगर स्थानीय युवाओं की रोजगार की दृष्टि से भागीदारी काफी कम है। इसे बढ़ाने का लगातार प्रयास हो रहा है। जिसके इस वर्ष फलीभूत होने की पूरी उम्मीद है।

स्थानीय युवाओं को यहां के उद्योगों और आइटी सेक्टर में अधिक से अधिक रोजगार मिले इसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा स्किल डेवलपमेंट पर विशेष फोकस किया जा रहा है। सरकार द्वारा युवाओं को अधिक से अधिक दक्ष बनाने के उद्देश्य से स्थापित हरियाणा विश्वकर्मा स्किल यूनिवर्सिटी ने अपना काम शुरू कर दिया है। दक्षता विकास के साथ-साथ ही जनसंख्या नियोजन को काफी बल मिलेगा। यही नहीं अपना कारोबार स्थापित करने के इच्छुक युवाओं को सरकार द्वारा विशेष सुविधा दी जा रही है। गुरुग्राम में प्रदेश सरकार द्वारा स्टार्टअप वेयर हाउस भी स्थापित किया गया है। यहां उन्हें निशुल्क सुविधाएं दी जा रही है जिससे वह अपने आइडिया को बड़े बिजनेस में बदल सकें। युवाओं का कहना है कि यह वर्ष उनके लिए काफी सकारात्मक होने वाला है। कॉलेज स्टूडेंट रोहित बंसल का कहना है कि प्रदेश सरकार जिस प्रकार से औद्योगिक निवेश की दिशा में प्रयास कर रही है इससे नए रोजगार के अवसर पैदा होंगे। आइटी सेक्टर में भी काफी मौके हैं।सिर्फ गुरुग्राम ही नहीं प्रदेश भर के युवाओं को इंडस्ट्री की मांग के अनुरूप तैयार करने का सिलसिला शुरू हो चुका है। उनका कौशल विकास किया जा रहा है। यह वर्ष युवाओं के कौशल विकास की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है। उन्हें यहां की इंडस्ट्री, आइटी, कॉरपोरेट और बीपीओ सेक्टर में काम करने के लायक बनाया जा रहा है।

- राज नेहरू, वाइस चांसलर हरियाणा विश्वकर्मा स्किल यूनिवर्सिटी

युवाओं के लिए रोजगार सृजन का प्रदेश सरकार द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा है। इसका सकारात्मक असर भी दिखने लगा है। रोजगार कार्यालय द्वारा भी समय-समय पर रोजगार मेला व शिविरों का आयोजन किया जाएगा। रोजगार की दृष्टि से यह साल काफी सकारात्मक रहने वाला है।