News Description
पर्यावरण जागरूकता भारत यात्री पिपलिया रवाना

चरखी दादरी : वर्तमान में गंभीर रूप से पर्यावरण प्रदूषण की समस्या बढ़ती जा रही है जो भविष्य में हमारे लिए जानलेवा साबित हो सकती है। इस समस्या का मुख्य कारण औद्योगीकरण, वनों की कटाई और शहरीकरण प्राकृतिक संसाधन को गंदा करने वाले उत्पाद है। यह बात सामाजिक कार्यकर्ता संजय रामफल ने यादव धर्मशाला में पर्यावरण के लिए काम कर रहे दिव्यांग भावेश पिपलिया को भारत यात्रा में लोगों को जागरूक करने के लिए रवाना करते हुए कही। भावेश पिपलिया ने कहा कि रास्तों पर गाडियों का ज्यादा उपयोग होने से पेट्रोल और डीजल भी ज्यादा प्रयोग होगा। पर्यावरण प्रदूषण में सभी हानिकारक प्रदूषक हमारे स्वास्थ पर विपरित प्रभाव डालते है। दैनिक कार्यो के चलते हम इतने व्यस्त हो गए की हम हमारी जिम्मेदारियों को ही भूल गए है। स्वच्छ पेयजल व शुद्ध हवा हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। लेकिन आज के आधुनिक युग में इन दोनों में से एक भी संसाधन साफ और शुद्ध नहीं है। उन्होंने लोगों को पौधारोपण करने की शपथ दिलाई। इस अवसर पर सलीम, जावेद, बाबा, सुरेश, नवीन, राजेश इत्यादि थे।