News Description
खुले में शौच जाना पड़ा महंगा, 40 के काटे चालान

पंचकूला : नगर निगम ने एमसी एरिया में खुले में शौच जाने वालों के चालान करना तेज कर दिया गया है। शहर के विभिन्न क्षेत्रों में चीफ सेनिटेशन इंस्पेक्टर मदन लाल की अगुवाई में निगरानी कमेटी जांच कर रही है।

सकेतड़ी, इंदिरा कालोनी, रामगढ़, सेक्टर-25 और 26 में अब 40 लोगों के चालान किए जा चुके है। शुक्रवार को 7 लोगों के चालान काटे गए। खुले में शौच जाने वालों से निगम जुर्माने के तौर पर 500-500 रुपये वसूल रहा है। इन्हें जुर्माना राशि देने पर ही छोड़ा जा रहा है। निगम में कार्यकारी अधिकारी ओपी सिहाग का कहना है कि पंचकूला को एक अक्टूबर, 2017 में ओडीएफ घोषित किया जा चुका है। निगम की ओर से जगह-जगह मोबाइल टॉयलेट भी रखवाए गए हैं। लोगों को इन टॉयलेट का इस्तेमाल करना चाहिए।

ऐसा करने वालों को जुर्माना करने का प्रोसेस जारी रहेगा। सिहाग का कहना है कि पंचकूला में गंदगी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ओपी सिहाग ने कहा कि शहर को स्वच्छ सर्वेक्षण में अव्वल लाने के लिए 850 सफाई कर्मचारी दिन रात मेहनत कर रहे हैं