News Description
सिक्सलेन सड़क के दोनों और बन रहा नाला फिर विवादों में

कुरुक्षेत्र रेलवे रोड को सिक्स लेन करने के लिए सड़क के दोनों और बनाया जाने वाला नाला एक बार फिर विवादों में आ गया। इस बार दुकानदारों ने प्रभावशाली दुकानदारों के कहने पर अपनी दुकान के सामने 18 इंची दीवार और दूसरी दुकानों के सामने नौ इंची दीवार बनाने का आरोप लगाया है, जबकि अधिकारियों का तर्क है कि ऐसा नियमानुसार ही किया गया है। अधिकारियों के मुताबिक मौके की स्थिति को देखते हुए कई जगह पर नाले की दीवार मोटी बनाने का निर्णय लिया गया। मगर दुकानदार इसे तकनीकी नहीं बल्कि ऊंची पहचान होने का आरोप लगा रहे हैं। इसके अलावा बरसाती नाले में बिन बरसात आए सीवर के पानी को लेकर भी दुकानदारों व ठेकेदार के लोगों में ठन गई। जेसीबी से सीवर उखाड़ने पर दुकानदार गुस्सा गए और जेसीबी हटाने के लिए कहा। वहीं जब इसकी सूचना जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को मिली तो तुरंत कर्मचारी मौके पर पहुंचे।

पक्षपात क्यों ?

दुकानदार ललित अरोड़ा ने आरोप लगाया दीवार बनाने में भेदभाव किया जा रहा है। विभाग के अधिकारी पक्षपात कर रहे हैं। अधिकारियों को चाहिए कि अगर दीवार नौ इंच बनाई जा रही है तो हर जगह यही दीवार होनी चाहिए। इसके अलावा कई जगह नाले का स्तर ऊंचा नीचा है।

फोटो संख्या : 24

सीवर उखाड़ने का किया गया प्रयास

दुकानदार निश्चल ने कहा कि अभी तो बरसात हुई ही नहीं, जबकि नाला अभी से गंदे पानी से लबालब है। नाला बनाते हुए कई जगह घरों में सीवर व पानी की पाइप लाइन उखाड़ दी गई। इससे नाले में गंदा पानी भर गया। इस पानी को निकालने के लिए ठेकेदार के कर्मियों ने एक गली के मोड़ पर सीवर को उखाड़ने का प्रयास किया, ताकि गंदे पानी को उसके जरिए सीवर में डाला जा सके। कर्मियों को रोका गया कि वे ऐसा न करें, क्योंकि कुछ माह पहले बरसात के दिनों में यहां से सड़क बैठ चुकी है। अगर दोबारा ऐसा किया गया तो यह बड़ी समस्या बन सकती है। इसके बावजूद भी कर्मियों ने उखाड़ दिया। सीवर टूटने की वजह से दुकान में बैठना भी मुश्किल हो गया है। तीव्र दुर्गंध ग्राहकों व दुकानदारों के लिए मुसीबत बन रही है।

दिसंबर माह तक होना था काम

महाराज ¨सह ने कहा कि सड़क के बीचोंबीच खुदाई के बाद नाले का काम रोक दिया गया है। दिसंबर माह तक सिक्सलेन का काम पूरा किया जाना था। मगर आठ महीने बाद भी अभी तक नाले को बनाने का काम पूरा नहीं हुआ। इससे राहगीरों को परेशानी हो रही है। प्रशासन को चाहिए कि जल्द से जल्द नाले को बनाकर सिक्सलेन सड़क बनाने का काम किया जाए।

सुरक्षा की दृष्टि से ऐसा होना चाहिए : एक्सइएन

पीडब्ल्यूडी बीएंडआर विभाग के एक्सईएन जेपी कांबोज ने कहा कि नाले पर काम चल रहा है। लोगों ने सीवर व पानी के जो कनेक्शन अवैध रूप से लिए हुए थे, उनके कनेक्शन टूटने की वजह से नाले में पानी एकत्रित हो गया है, जिसे निकालने के लिए नजदीक के सीवर में पाइप लाइन डालकर उन्हें निकालना था। मगर कुछ दुकानदारों ने इस पर विरोध किया तो दूसरी जगह पाइप डालकर पानी निकाल दिया गया। इसके अलावा कई जगह पर 18 इंच मोटी नाले की दीवार बनाई गई वह भी मौके की स्थिति को समझते हुए ऐसा किया गया है। कई दुकानें बेसमेंट में बनी हुई थी, जिसके मद्देनजर उन दुकानों के सामने सुरक्षा की दृष्टि से ऐसा किया गया है।