News Description
तेरे भरोसे मेरी गाड़ी ओ साईं शिरडी वाले

 कुरुक्षेत्र श्री शिरडी साईं सेवा संघ की ओर से कालेश्वर महादेव मंदिर परिसर में स्थापित साईं मंदिर में बृहस्पतिवार को भक्तों की काफी भीड़ रही। संस्था के अध्यक्ष डॉ. विजय शर्मा ने शिरड़ी साईं बाबा की महिमा बताते हुए कहा कि संाई बाबा कर्मयोग, ज्ञानयोग और भक्तियोग के मूर्तिमान रूप थे तथा अपने भक्तों को भी यही शिक्षा दिया करते थे। उनके जीवन काल में अनेक दुष्ट लोग उन्हें अपमानित करते हुए पीड़ा पहुंचाते थे, परंतु साईं कभी भी अपना धैर्य नहीं खोते थे तथा भक्ति मार्ग पर चलते हुए मानवता की सेवा में लगे रहते थे। मंदिर में लोगों ने गुरू स्थान की परिक्रमा करके धूनि माई पर सात अगरबत्तियां लगाई। इससे पूर्व साईं पालकी निकाली गई, जोकि कालेश्वर महादेव मंदिर पहुंची। मंदिर में गायकों द्वारा सुनाए गए भजन तेरे भरोसे मेरी गाड़ी ओ साईं शिरडी वाले.. और झूमके नाचो भक्तों, साईं का मेला आ गया..पर भक्त झूम उठे। श्रद्धालुओं ने साईं चालीसा व साईं मंत्र का जाप करके धूप आरती में भाग लिया। इस मौके पर पुजारी वासुवा ममगाईं, माणिक शर्मा, मैनेजर दीपक शर्मा, सत्यप्रकाश, राजेश्वर ठाकुर, रमन बंसल, गगनदीप आशु, यश अरोड़ा, सुषमा, मधु ठाकुर, रेनू मिगलानी, नवीन शर्मा, नीना गुप्ता, प्रदीप डूडेजा, मनोज परूथी, अनिल बजाज ने भाग लिया।