News Description
प्राचार्य को हटाने की मांग पर अड़े प्रदर्शनकारी आइटीआइ छात्र

सोनीपत: आइटीआइ के छात्रों द्वारा ¨प्रसिपल पर दु‌र्व्यवहार का आरोप लगाकर प्रदर्शन करना लगातार जारी है। बृहस्पतिवार को छात्रों के तेवर कड़े दिखे । बृहस्पतिवार की सुबह 300 विद्यार्थी लघु सचिवालय के सामने एकजुट हुए और ¨प्रसिपल को हटाने के नारे लगाने लगे। प्रदर्शन में 80 से अधिक विद्यार्थी गोहाना, गन्नौर, खरखौदा, बुटाना, राजलूगढ़ी व पानीपत के आइटीआइ संस्थान से शामिल हुए।

शहर की आइटीआइ के सैकड़ों विद्यार्थी 27 दिसंबर से प्रदर्शन कर रहे हैं और पिछले नौ दिनों से संस्थान में कोई भी क्लास नहीं लगाई है। इस दौरान वह तहसीलदार से लेकर उपायुक्त व भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी राजीव जैन को शिकायत कर चुके हैं। उन्हें जांच करने का आश्वासन तो दिया गया है ,मगर वह ¨प्रसिपल को बर्खास्त करने या उनका तबादला होने तक प्रदर्शन जारी रखने पर अड़े हैं।

वार्षिक परीक्षा में अधिक समय नहीं है और ऐसे में विद्यार्थियों की पढ़ाई पर नकारात्मक असर पड़ रहा है। बृहस्पतिवार को छात्रों के एक दल ने तहसीलदार हितेंद्र शर्मा से मिलकर स्थिति से अवगत कराया और जांच को जल्द आगे बढ़ाने की मांग की। इसके अलावा छात्रों व छात्र नेताओं पर दर्ज किए केस को हटाने की अपील की। तहसीलदार ने उन्हें जांच को तेजी से आगे बढ़ाने का आश्वासन दिया है।

प्रदर्शन के नौवें दिन छात्रों का आक्रोश बढ़ा हुआ था। उन्होंने सोमवार तक कार्रवाई करने की चेतावनी देते हुए कहा कि पिछले आठ दिनों तक क्लास छोड़कर प्रदर्शन करने का अभी तक कोई प्रभाव देखने को नहीं मिला है। प्रशासन खुद हमें आंदोलन पर मजबूर कर रहा है। छात्रों ने कहा कि अगर सोमवार तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की जाती है तो किसी भी आंदोलन का जिम्मेदार प्रशासन ही होगा।