# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
प्रकाश उत्सव को लेकर शहर में निकाला नगर कीर्तन

 टोहाना: दसवीं पातशाही  गुरु गोबिंद ¨सह महाराज के प्रकाश उत्सव को लेकर बृहस्पतिवार को गुरुद्वारा ¨सह सभा के तत्वाधान में भव्य नगर कीर्तन का आयोजन पंज प्यारों की अगुवाई में किया गया जोकि अनाज मंडी गुरुद्वारा साहिब से जो बोले सो निहाल के जयकारों के साथ रवाना हुआ। इस नगर कीर्तन में टोहाना क्षेत्र के सैकड़ों संगतों ने भाग लिया। इस नगर कीर्तन का शहर में जगह-जगह भव्य स्वागत किया गया। पंच प्यारों की अगुवाई में फूलों से सजे वाहन में श्री गुरुग्रंथ साहिब को विराजमान किया गया था। जबकि युवा संगत उसके आगे सड़क पर सफाई कर वाहे गुरु का जप कर रहे थे। गतका पार्टी ने अनेक हैरतंगेज कारनामे प्रस्तुत कर दर्शकों को आश्चर्यचकित किया। नगर कीर्तन में गुरुद्वारा के ग्रंथी बल¨वद्र ¨सह व नरेंद्र ¨सह द्वारा शब्द कीर्तन के द्वारा संगतों को निहाल किया जा रहा था। गुरुनानक पब्लिक स्कूल के विद्यार्थी पंक्तिवद्ध शोभायमान थे। नगर कीर्तन रेलवे रोड से नेहरू मार्केट, घंटाघर चौक, तहसील रोड, गुरुद्वारा तूर नगर से चंडीगढ़ रोड के रास्ते से होते हुए शहर गुरुद्वारा पर आकर संपन्न हुआ। इससे पूर्व अनाज मंडी गुरुद्वारा में सुबह 10 बजे श्री गुरुग्रंथ साहिब के पाठ का भोग डाला गया। उसके उपरांत अटूट लंगर बरताया गया। ¨सह सभा प्रधान अवतार ¨सह नांगला ने बताया कि 5 जनवरी को शहर गुरुद्वारा साहिब में गुरु गो¨बद ¨सह जी महाराज के प्रकाश उत्सव के अवसर पर दीवान सजाया जाएगा। वहीं बाहर से आए रागी व ढाढी जत्थों द्वारा गुरु जी के जीवन प्रसंगों की विस्तार से व्याख्या की जाएगी। नगर कीर्तन में गुरूद्वारा ¨सह सभा प्रधान अवतार ¨सह नांगला, गुरबक्श ¨सह, परमजीत ¨सह, हाकम ¨सह नांगला, गुरबचन ¨सह, राम¨सह सैनी, कर्म ¨सह ढिल्लों, रेश्म ¨सह, राहुल ¨सह, अवतार ¨सह, नरसी ¨सह, गुरपाल नैन आदि उपस्थित थे।