News Description
वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में उप प्राचार्यो का पद सृजित किया जाए

भिवानी : स्कूल लेक्चरर एसोसिएशन हरियाणा (सलाह) का प्रतिनिधिमंडल अतिरिक्त मुख्य सचिव केके  खंडेलवाल से राज्य प्रधान राजकुमार शर्मा के नेतृत्व में चंडीगढ़ में मिला। इस प्रतिनिधिमंडल में कोषाध्यक्ष अजय मलिक, प्रवक्ता अशोक शर्मा, संजय गौतम, भिवानी  जिलाध्यक्ष लीलू राम शर्मा व ¨हदी प्रवक्ता राजबीर  धारेडू  शामिल थे। प्रतिनिधिमंडल ने केके  खंड़ेलवाल  को नववर्ष की बधाई देते हुए मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा। सलाह के प्रदेश प्रधान राजकुमार शर्मा ने बताया कि केके  खंड़ेलवाल से यह मुलाकात सकारात्मक रही और उन्होंने मांगों को शीघ्र पूरा करने का आश्वासन दिया। राजकुमार शर्मा ने बताया कि ज्ञापन के माध्यम से मांग की गई कि शिक्षा विभाग में कार्यरत नॉन  एचटेट  एवं नॉन  बी-एड शिक्षकों का 2024  तक समय बढ़ाया जाए। ताकि उन्हें एचटेट  के लिए उचित मौके मिल सकें। बी-एड करने के लिए इन सर्विस का रास्ता निकाला जाए। यह भी मांग की गई कि पीजीटी  की जगह लेक्चरर (स्कूल कैडर) पदनाम  किया जाए। सभी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में उप प्राचार्यो  का पद सृजित किया जाए। एक जनवरी 2006 से 18  हजार 750 रुपये पे स्केल का लाभ दिया जाए। लेक्चरर से प्राचार्य की पदोन्नति हर वर्ष एक निश्चित समय पर की जाए। जो लेक्चरर कॉलेज  कैडर की योग्यता रखते हों उन्हें पदोन्नति का अवसर दिया जाए। राजकुमार शर्मा ने बताया कि मांगपत्र में एसीपी  का सरलीकरण करने। 1-8 व 9 से 12 वीं  दो ही तरह के विद्यालय करने, 35 बच्चों पर सेक्शन निर्धारित करने, शिक्षकों से केवल शिक्षण कार्य लेने, पुरानी पेंशन स्कीम बहाल करने, उच्च विद्यालयों से सभी लेक्चरर को वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में स्थानांतरण करने तथा स्थानांतरण नीति में में पूर्व सैनिक लेक्चरर को अतिरिक्त वरीयता देने की मांग की गई। इसके अलावा सभी कर्मचारियों के आश्रितों को भी कैशलेस  मेडिकल सुविधा प्रदान की जाए। राजकुमार शर्मा ने कहा कि मांगपत्र पर गौर करते हुए अतिरिक्त मुख्य सचिव केके  खंडेलवाल ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त करते हुए मांग पत्र को शिक्षा निदेशालय को भेज दिया और कहा कि तीन दिनों को भीतर सभी मांगों पर अमल किया जाएगा।