News Description
बालौर के किसानों के समर्थन में आए नया गाव के किसान और यूनियन नेता

बहादुरगढ़:शहर के सेक्टर-12 में चल रहे ऑटो मार्के ट के विकास कार्य का संबंधित जमीन के मालिकों द्वारा दिए जा रहे धरने को समर्थन किसान यूनियनों के नेता व नया गाव के किसानों ने भी दिया है। बृहस्पतिवार को धरना छठे दिन में प्रवेश कर गया। किसान अपनी माग पर पूरी तरह अडिग है। उनका कहना है कि जब तक मुआवजा नहीं मिलेगा तब तक वे दिन-रात यहा पर धरना देंगे और अपने हक की लड़ाई लड़ेंगे। बृहस्पतिवार को किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष शमशेर दहिया, झज्जार जिला किसान यूनियन के अध्यक्ष प्रताप सिंह छिल्लर, किसान यूनियन के प्रचार मंत्री मागेराम छिल्लर, खरखौदा ब्लॉक अध्यक्ष आनंद दहिया, रामकिशन सहरावत, रिसाल सिंह बामनोली किसानों के समर्थन में पहुचे। प्रदेश अध्यक्ष शमशेर दहिया ने कहा कि किसानों के साथ अन्याय किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं होगा। चाहे इसके लिए उन्हे किसी तरह की लड़ाई लड़नी पड़े। अपने हकों की आवाज नहीं दबने देंगे। गौरतलब है कि किसानों का धरना पिछले शनिवार से जारी है। उसी दिन से किसानों ने यहा पर काम रुकवा दिया था और धरने पर बैठ गए थे। अब किसानों ने दिन-रात धरना देना शुरू कर दिया है। किसानों का कहना है कि पहले उन्हें न्यायालय द्वारा बढ़ाई गई मुआवजा राशि दी जाए। इसके बाद यहा काम शुरू किया जाए। जब तक मुआवजा नहीं मिलता वह मार्केट नहीं बनने देंगे। किसानो के विरोध के चलते काम रुका हुआ है। किसान अपनी माग से पीछे हटने के लिए तैयार नहीं है। किसानो ने कहा कि वर्ष 2004 में उनकी 400 एकड़ जमीन एक्वायर कर ली गई। उस वक्त उचित मुआवजा व प्लाट देने का आश्वासन दिया गया। मगर अब तक न तो उचित मुआवजा मिला और न ही प्लाट। पिछले दिनो ही सुप्रीम कोर्ट ने मुआवजा बढ़ाकर देने के आदेश दिए थे। इसके बावजूद किसानों को मुआवजा नहीं मिल रहा। इसके बावजूद भी उन्हे मुआवजा नहीं मिला है। जब तक मुआवजा नहीं मिलता वे काम नहीं होने देंगे।

धरने में किसान नवीन, कृष्ण यादव, कंवल सिंह, गिरधारी लाल, रामफल, वीरेद्र, लक्षमण, धनराज, धर्म सिंह, जयभगवान, आजाद, रामचंद्र, अनिल, रामकृष्ण, ज्ञानीराम, राजेश, धर्मवीर, राजीव, सतबीर, कुलदीप आदि शामिल है।