News Description
बिना वर्कआर्डर शुरू किया नाले का निर्माण, काम रोका

मंडी अटेली : कस्बा में शुरू किया गया नाले का काम बीच में ही रोक दिया गया है। इस नाले के निर्माण को लेकर लोगों ने जिला उपायुक्त को शिकायत की थी। जिला उपायुक्त के आदेश के बाद नगरपालिका ने नाले के काम को बंद कर दिया। काम रोकने का कारण बिना वर्कआर्डर काम शुरू करना बताया जा रहा है।

नगरपालिका सचिव प्रदीप का कहना है कि जिला उपायुक्त ने मौखिक रूप से उन्हें नाले का काम रोकने के लिए कहा था जिसे रोक दिया गया। नाले का काम क्यों रोक दिया इसके बारे में सचिव कुछ भी बताने को तैयार नहीं है। नारनौल-रेवाड़ी सड़क मार्ग के साथ लगते नाले का बजट करीब ढाई करोड़ का है। सूत्रों के अनुसार जल्दबाजी के चलते बिना वर्कआर्डर के इस नाले का काम शुरू किया गया था। इसकी शिकायत होने के कारण काम को रोका गया है। दूसरी ओर, नाले का काम रुकने से जहां नाला खोद दिया गया तथा खोदने के बाद उसे छोड़ दिया गया इससे दुकानदारों को भारी परेशानी हो रही है। नाले का काम शुरू नहीं करने से नाराज दुकानदार विरोध प्रदर्शन कर अपनी नाराजगी जता चुके हैं। वहीं दूसरी ओर पुराने बस स्टैंड से रेलवे फाटक को जाने वाले मार्ग पर डिवाइडर को लेकर दुकानदार दो फाड़ है। कुछ बनवाने के पक्ष में है तो कुछ हटवाने के लिए जोर लगा रखा है।

जैसे-जैसे नगरपालिका के चुनाव नजदीक आ रहे है नगरपालिका की राजनीति तेज होती जा रही है। डिवाइडर का काम काफी दिनों से चल रहा है लेकिन शिकायत अब हुई है। ढाई करोड़ की लागत से तैयार होने वाला नाला बीच में ही रोक दिया गया है। इसको शुरू करवाने के लिए दुकानदार जोर लगा रहे है। नगरपालिका का नांगल को जाने वाला मार्ग भी कानून प्रक्रिया में अटका पड़ा है