News Description
लाखों रुपये के उपकरण फांक रहे धूल, सिग्नल दे रहे होमगार्ड

सिरसा : चौक चौराहों पर यातायात वाहनों को सिग्नल देने वाले तकनीकी उपकरण तो तीन वर्षों से धूल फांक रहे है और सिग्नल देने का काम होमगार्ड के इशारों से ही चल रहा है। इन बीते तीन वर्षों खराब लाइटों को दुरुस्त करने का जिक्र बैठकों में अनेक बार हो चुका है।

लेकिन काम अभी तक शुरू ही नहीं हुआ है। वर्ष 2015 में शहर के अंबेडकर चौक व बेगू रोड स्थित शाह सतनाम चौक पर सोलर संचालित ट्रैफिक लाइट लगाई गई थी। जिस पर करीब 20 लाख रुपये की लागत हुई। लेकिन विडंबना रही कि यह लाइटें अधिक दिन तक नहीं चल पाई। खराब हुई लाइटों को करीब 3 वर्ष का समय बीत चुका है और जिला उपायुक्त तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ इन खराब हुई लाइटों के विषय में बैठक भी की जा चुकी है।

हालांकि टाऊन पार्क तथा सांगवान चौक पर भी ट्रैफिक लाइटें पूर्व में लगी हुई है। लेकिन यह लाइटें काफी सालों से बंद पड़ी हुई है। वहीं देखा जाए तो शहर के तमाम चौक, जहां पूर्व में भी लाइटें लगी हुई थी वह भी सालों से खराब पड़ी है। इन ट्रैफिक लाइटों के खराब होने से यातायात व्यवस्था काफी बाधित हो रही है।

बरनाला रोड स्थित भूमण शाह चौक, अंबेडकर चौक, टाऊन पार्क, सांगवान चौक व शाह सतनाम चौक पर ट्रैफिक लाइटें लगी हुई है। परंतु सभी चौकों पर लगी यह लाइटें पूरी तरह से खराब पड़ी हुई है।