# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
जागो और जगाओ, अपने शहर को स्वच्छ बनाओ

करनाल : पंचायत भवन में स्वयं सहायता समूह से जुड़ी करीब 200 महिलाओं ने शपथ लेते हुए कहा कि वे स्वयं और अपने संपर्क में आने वाली महिलाओं को इस बात के लिए संकल्पित करेंगी कि जिस दुकान के आगे कचरा या गंदगी दिखे, वहां से खरीदारी न करें। यही नहीं अपने शहर की खातिर ऐसे दुकानदार को यह एहसास भी कराएं कि दुकान के आगे गंदगी की वजह से वे दूसरी दुकान से सामान खरीदेंगे। इसके साथ ही जिस रेहड़ी के आसपास भी गंदगी होगी, वहां से भी सब्जी व फल नहीं खरीदेंगे।

शपथ दिलाने से पहले निगम के डीएमसी रोहताश बिशनोई व इओ धीरज कुमार ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 की जानकारी होने के बारे में महिलाओं से संवाद किया। पढ़ी लिखी महिलाओं ने हाथ उठाकर कहा कि उन्हे सर्वेक्षण के बारे में अच्छी तरह से मालूम है, लेकिन कुछ कम पढ़ी लिखी महिलाओं ने अनभिज्ञता जताई।

अधिकारियों ने ऐसी महिलाओं को सरल भाषा में समझाकर बताया कि इसी माह केंद्र सरकार की टीम करनाल आएगी। शहर की साफ-सफाई और स्वच्छ सर्वेक्षण को लेकर जनता से सवाल पूछेगी, ऐसे सवाल किसी से भी पूछे जा सकते हैं। सवालों के सही जवाब दिए तो नंबर मिलेंगे, गलत बताया तो नंबर कटेंगे।

उन्होंने समझाया कि जिस तरह से एक सास जब किसी रिश्तेदारी में होकर घर वापस आती है और घर साफ-सुथरा पाए जाने पर बहु की तारीफ करती है और गंदा पाए जाने पर उसे टोकती है। ठीक इसी तरह टीम के अधिकारियों को करनाल में सफाई मिली, तो उसके अच्छे नंबर देंगे और गंदगी मिली तो नंबर कटेंगे।

स्वच्छ सर्वेक्षण की दी जानकारी

विकास सदन के सभागार में शहर की धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों से एक बैठक कर उन्हें भी स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 की जानकारी दी। इससे पूर्व भी निगम आयुक्त डॉ. प्रियंका सोनी की अध्यक्षता में धार्मिक संस्थाओं के साथ स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 को लेकर बैठकें हो चुकी हैं। बैठक में निगम के डीएमसी व ईओ ने प्रतिनिधियों से कहा कि मंदिर आस्था के स्थल हैं और ऐसी जगहों पर सबसे ज्यादा ध्यान स्वच्छता पर ही दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि मंदिर में आने वाले प्रत्येक श्रद्धालु को नित्य समझाया जाए कि वे अपने घर, परिसर व शहर को साफ-सुथरा रखें।