News Description
नरवाना में लगे सीसीटीवी बने शो-पीस, प्रशासन अनजान

 नगर परिषद द्वारा शहर में आपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए हर चौक पर सीसीटीवी कैमरे लगाये थे, ताकि अपराधियों की पहचान हो सके। लेकिन अब ये सीसीटीवी कैमरे खराब होने से शो-पीस बनकर रह गये हैं, जिससे प्रशासन अनजान बना हुआ है। शहरवासी अनिल गर्ग, विकेश तागरा, नरेश ¨सगला, बलबीर ¨सह, सुभाष ¨सगला, बिजेंद्र सैन, गुरदेव डोलिया ने बताया कि निवर्तमान प्रधान कैलाश ¨सगला के कार्यकाल में सीसीटीवी कैमरे लगभग 4 साल पहले रेलवे स्टेशन के पास, अग्रेसन चौक, सुभाष चंद्र चौक, हरियल चौक, मोर पत्ति चौक, टोहाना रोड़ आदि पर लगभग 20 कैमरे लगवाये थे। जिससे आपराधिक घटनाओं में काफी कमी आई थी। परंतु उनका कार्यकाल समाप्त हो जाने के बाद नये सीसीटीवी कैमरे लगवाने की बजाय उनको अब तक किसी भी नगरपरिषद प्रधान ने ठीक करवाने की जहमत नहीं उठाई। जिस कारण ये सीसीटीवी कैमरे अब केवल दिखावा मात्र रह गये हैं। उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा परेशानी सर्दी के मौसम में शहरवासियों को उठानी पड़ती है, क्योंकि ठंड के मौसम में कोई बाहर निकलता नहीं और अपराधी अपना काम आसानी से कर जाता है। उन्होंने नगरपरिषद प्रशासन से मांग उठाई कि इन सीसीटीवी कैमरों को ठीक करवाया जाये, ताकि कई चौक पर नये सीसीटीवी कैमरे भी लगवाये जाये। जिससे शहरवासियों के साथ आपराधिक घटनाओं करने वाले अपराधियों के चेहरे कैमरे में कैद हो सके और पुलिस को उनको पकड़ने में आसानी हो सके।

----------------

अगर शहर में सीसीटीवी कैमरे नगरपरिषद ने लगवाये हैं, तो खराब पड़े कैमरों को उनसे ठीक करवाया जायेगा। नहीं तो उनके द्वारा यूएलबी प्रोजेक्ट के तहत शहर में नये सीसीटीवी कैमरे लगवाने का प्रस्ताव भेजा गया है।