# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
राजनीतिक दलों की गतिविधियों का केंद्र बना रहा नागरिक अस्पताल

पलवल : साइको किलर नरेश धनखड़ द्वारा मंगलवार की अल सुबह की गई छह हत्याओं के बाद बुधवार को नागरिक अस्पताल परिसर विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं की गतिविधियों का केंद्र बना रहा। सुबह सवेरे ही अस्पताल में विभिन्न दलों के नेता पहुंचने शुरू हो गए। अस्पताल में पहुंचने वालों में कांग्रेस, इनेलो, भाजपा व आम आदमी पार्टी सभी दलों के नेता मौजूद थे।

मामले की नजाकत को समझते हुए भारी संख्या में पुलिस बल भी अस्पताल परिसर में मौजूद था। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को पहले से ही अंदेशा था कि राजनीतिक दलों के लोग मृतकों के परिजनों की गतिविधियों के चलते शवों को उनके परिजन द्वारा ले जाने का मामला उलझ सकता है, जिसके चलते पुलिस पूरी तरह अलर्ट पर थी। पुलिस उपाधीक्षक अभिमन्यु लोहान व सुरेश कुमार पुलिस बल को निर्देशित कर रहे थे तो आला अधिकारियों से भी संपर्क बनाए हुए थे।

अस्पताल परिसर में कांग्रेस विधायक करण  दलाल ने कहा कि भाजपा सरकार को आम आदमी की सुरक्षा की न तो कोई ¨चता है, न ही कोई सरोकार। इतने बड़े वीभत्स कांड के बाद भी सरकार का कोई भी मंत्री या प्रतिनिधि लोगों के आंसू पोंछने के लिए सामने नहीं आया। दलाल ने कहा कि इस मामले को पार्टी स्तर पर भी उठाया जाएगा तथा वे विधानसभा में भी जिला पुलिस व प्रशासन की पोल खोलेंगे।

इनेलो नेताओं ने कहा कि सरकार पूरी तरह से फेल हो गई है। सरकार के मंत्रियों, अधिकारियों व जन प्रतिनिधियों को आम आदमी से कोई मतलब नहीं है। इतना बड़ा कांड होने के बाबजूद भी भाजपा के नेता घरों में बैठे रहे। आम आदमी पार्टी के नेताओं ने कहा कि प्रदेश में पूरी तरह से जंगलराज कायम हो चुका है। अधिकारी व नेता मिल कर जनता का शोषण कर रहे हैं