News Description
माता सावित्रीबाई फूले की जयंती धूमधाम से मनाई

बहादुरगढ़:सैनी समाज के लोगों द्वारा माता सावित्रीबाई फूले की जयंती मनाई गई। समारोह में समाज के लोगों से आह्वान किया गया कि वे उनके दिखाए हुए रास्ते पर चलने का प्रयास करे। माता सावित्री बाई फूले ने सामाजिक कुरीतियों के विरुद्ध आवाज उठाई थी। सामाजिक व्यवस्था की रीतियों के कुप्रभाव को दूर किया और निडरता के साथ उन सब का विरोध किया। भारतवर्ष में स्त्रियों को देवी के रूप में सम्मान दिलाने वाली माता सावित्रीबाई फूले थी। वह भारत की पहली शिक्षिका के रूप में जिन्होंने पूरे भारत को और भारत की महिलाओं को मूलभूत जनवादी अधिकार नारी उत्पीड़न शोषण, उसकी आर्थिक निर्भरता और दलितों और स्त्री शिक्षा के उत्थान के लिए बहुत कार्य किए। इन्होंने सती प्रथा, बाल विवाह, अशिक्षा के विरुद्ध जमकर संघर्ष किया और विधवा विवाह व बेसहारा औरतों के रहने के लिए आवास गृह विस्थापित करवाएं।

इस मौके पर सोनू सैनी, दर्शन सैनी, रामनिवास सैनी, संजीव सैनी, सुरेश सैनी, संजय सैनी, राज सिंह सैनी, बंटी सैनी, कृष्ण सैनी, जय भगवान सैनी, डीघराम सैनी, रणबीर सैनी, मदन सैनी, दयाराम सैनी, नितेश सैनी, हिमाशु आदि मौजूद थे।