News Description
नार्थ जोन संतोष ट्रॉफी के लिए ट्रायल से गुजरे प्रदेश के फुटबॉल खिलाड़ी

अंबाला शहर : 15 जनवरी से उत्तर प्रदेश में खेली जाने वाली नार्थ जोन ट्रॉफी को लेकर बुधवार को छावनी के राबर्ट पेवेलियन में राज्य स्तरीय ट्रायल कराए गए। हरियाणा फुटबॉल एसोसिएशन (भाजपा समर्थित) के इस ट्रायल प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से सीनियर वर्ग के करीब 250 खिलाड़ी पहुंचे। इन खिलाड़ियों में से ही 40 खिलाड़ियों का चयन किया गया है। जिनके लिए 5 जनवरी से 12 जनवरी तक शहर सेक्टर 10 स्थित राजीव गांधी स्टेडियम में कैंप लगाया जाएगा। कैंप में से ही संतोष ट्राफी के लिए 20 सदस्यीय टीम का चयन किया जाएगा।

करीब 20 साल बाद अंबाला में हुए फुटबॉल के राज्य स्तरीय ट्रायल को लेकर खिलाड़ियों में भी विशेष उत्साह देखा गया। हालांकि, खिलाड़ियों के चयन को लेकर एक सेलेक्शन कमेटी बनाई गई थी। इसमें करनाल से रमन कुमार, भिवानी से रणबीर ¨सह, अंबाला के राजेश व रवींद्र सहित गुड़गांव के महेश कुमार को चयनकर्ता की भूमिका सौंपी गई थी। वहीं, ट्रायल में उम्मीद से अढ़ाई गुना तक ज्यादा पहुंचे खिलाड़ियों को दो-दो टीमों में बांटकर 20-20 मिनट के मैच कराए गए। इसके साथ ही गोल कीपर की भूमिका निभाने वाले खिलाड़ी भी ट्रायल से गुजरे। इन ट्रायल के दौरान विभिन्न फुटबॉल कोच भी अपनी अपनी भूमिका निभाते देखे गए। इस ट्रायल में मौजूद हरियाणा फुटबॉल एसोसिएशन (भाजपा समर्थित) के सचिव ललित चौधरी के मुताबिक चयन किए गए 40 खिलाड़ियों को अब प्रशिक्षण कैंप में नार्थ जोन संतोष ट्रॉफी की फाइनल टीम में चयन पक्का करने के लिए अपनी दावेदारी पुख्ता ढंग से पेश करना होगा। बता दें कि इससे पहले कांग्रेस समर्थित हरियाणा फुटबॉल एसोसिएशन ने रविवार को सोनीपत में ट्रायल कराए थे। हालांकि, ललित चौधरी का कहना है कि उनकी एसोसिएशन को ही आल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन से मान्यता है। ऐसे में पहले कराए गए ट्रायल का कोई औचित्य नहीं बनता है।