News Description
सर्दी से जनजीवन प्रभावित, कोहरे ने रोकी वाहनों की रफ्तार

नूंह : नए साल में ठंड का कहर लोगों पर बरपने लगा है। एक व दो जनवरी के बाद जहां एक ओर ठंड से जन जीवन प्रभावित हुआ है वहीं दूसरी ओर कोहरे ने भी वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगा दिया। सुबह 11 बजे तक कोहरे के कारण वाहन रेंगते नजर आए।

फिर शाम के छह बजते ही क्षेत्र में कोहरा छाने लगा। वाहन चालकों को केवल सात घंटे की राहत मिली। लेकिन सूरज ढ़लते ही वाहन चालकों की मुसीबत बढ़ गई। हालांकि कोहरे के कारण सड़कें भी सूनी दिखाई दे रही हैं। वहीं दूसरी ओर इलाके में लगातार तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। जहां 31 जनवरी को अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था वहीं एक व दो जनवरी यह अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान दो डिग्री घटकर 7 सेल्सियस पर पहुंच गया। तापमान की गिरावट ने लोगों को भी परेशानी में डाल दिया है। जिससे क्षेत्र में जनजीवन भी प्रभावित हुआ है। लोग सुबह व शाम के समय अलाव का सहारा लेकर सर्दी दूर करते नजर आ रहे हैं।

तापमान गिरने से किसानों के चेहरों पर खुशी नजर आ रही है। हरीराम, कृष्णलाल, देवपाल, मुबीन, जाकिर, अकबर सहित कई किसानों ने बताया कि फसलों की बेहतरी के लिए तापमान में गिरावट होना जरूरी है। बढ़ती ठंड फसलों के लिए वरदान है। दिसंबर माह तक सर्दी नहीं पड़ने के कारण फसलों की ¨चता सता रही थी।

लेकिन नए साल में तापमान में गिरावट होने के कारण अब किसानों की परेशानी कम हुई है। यह ठंड गेहूं व सरसों के हिसाब से काफी बेहतर है। जहां एक ओर ठंड से फसलों का तना तेजी से बढ़ेगा वहीं दूसरी ओर उत्पादन भी बढ़ेगा।