News Description
वर्ष 2018 में शिक्षा और रोजगार से महिलाओं को सशक्त करने की तैयारी

नूंह : जिले की महिलाओं को वर्ष 2018 में शिक्षा और रोजगार के माध्यम से सशक्त कराने की तैयारी की जा रही है। जिसमें जिला प्रशासन सामाजिक संस्थाओं का भी सहयोग ले रहा है। ये संस्थाएं जहां महिलाओं को निश्शुल्क शिक्षा दे रहे हैं वहीं दूसरी ओर उनके लिए रोजगार भी मुहैया करा रहे हैं। इसके साथ-साथ जिले में बनाए गए तकनीकी संस्थान मील का पत्थर साबित होंगे। इस वर्ष में यहां रोजगारपरक युवतियों की पौध तैयार होने की उम्मीद है। हालांकि अभी इन संस्थानों में स्टाफ व संसाधनों की कमी है। जिसे नए साल में पूरे होने की उम्मीद है। पिछली सरकार ने यहां सात नई आइटीआइ व तीन बहुशिल्प तकनीकी कॉलेज बनाए। सभी संस्थान शुरू होने से यहां हजारों महिलाएं शिक्षित होंगी।

पुन्हाना, पिनगवां व नूंह आइटीआइ में लड़कियों के लिए अलग ¨वग की व्यवस्था की गई है। ये शुरू तो हो गई हैं, लेकिन अभी तक इनमें स्टाफ की नियुक्ति ना होने पाने के कारण बेटियों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। नए साल में उक्त संस्थानों में स्टाफ के तैनात होने की उम्मीद है। स्टाफ तैनात होने के बाद इनके भवनों पर लटका ताला भी खुल पाएगा।

जिले में चल रहे छह कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय नारी सशक्तिकरण को बढ़ावा दे रहे हैं। ये स्कूल पूरी तरह से लड़कियों के लिए हैं और यहां पूरा महिला स्टाफ है। ऐसे में यहां दाखिलों के लिए भी मारामारी रहती है। नए साल के इन स्कूलों की दसवीं से बारहवीं तक अपग्रेड होने की उम्मीद है। जिससे इन स्कूलों में संसाधन और सुविधाएं भी बढ़ेगी