News Description
हादसों से बचाव हेतु वाहनों पर लगाए रिफ्लेक्टर

यमुनानगर : धुंध में हादसे न हो इसके लिए यातायात पुलिस ने अभियान चलाकर वाहनों पर रिफ्लेक्टर लगाए ताकि लोगों की जिदंगी बच जाए। वहीं रिफलेक्टर धुंध व रात के समय काफी चमकते है और हादसों होने का डर नहीं रहता। इसी को लेकर यातायात पुलिस ने यातायात थाना प्रभारी निर्मल ¨सह के नेतत्व में बस स्टैड जगाधरी, अग्रसेन चौक सहित कई स्थानों पर वाहन रोक कर उनकी चे¨कग की और उन पर रिफ्लेक्टर लगाए।

यातायात थाना प्रभारी निर्मल ¨सह ने बताया कि अधिकतर वाहनों पर रिफलेक्टर नहीं है। धुंध होने के कारण व रात को वाहना दिखाई नहीं देते जिस कारण लगातार हादसे हो जाते है। रात व धुंध में वाहन दिखाई नहीं देते लेकिन इस लापरवाही को वाहन चालक भी नहीं देखते, इसलिए हादसे लगातार बढ़ रहे है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने बस स्टैंड, अग्रसेन चौक, कन्हैया सहिब चौक सहित कई स्थानों पर वाहनों पर रिफ्लेक्टर लगाए गए। जो रिफ्लेक्टर लगाए जा रहे है वह धुंध में काफी दूर से चमकते है। पुलिस हर रोज करीब 150 से 200 वाहनों पर रिफ्लेक्टर लगाए जा रहे है।

जिला में कई बार धुंध के कारण हादसे हो चुके है कई बार ट्रक व ट्रैक्टर चालक सड़क को ऊपर ही वाहन खड़ा कर देते है। उन पर रिफ्लेक्टर लगा न होने के कारण हादसे होते है। हाल में जठलाना के पास सड़क पर ट्रक खड़ा था। धुंध होने के कारण बाइक सवारों को ट्रक दिखाई नहीं दिया जिस कारण बाइक ट्रक में भिड़ गई। एक युवक की मौत हो गई जबकि एक घायल हो गया। इस तरह कई हादसे हो चुके है। ट्रक पर रिफ्लेक्टर न लगे होने के कारण हादसा हुआ। इस तरह लापरवाही से सड़क पर वाहन खड़ा न करे जिससे हादसे न होंगे।

यातायात थाना प्रभारी निर्मल ¨सह ने बताया कि अब रिफ्लेक्टर लगाने का काम लगातार चलेगा ताकि हादसे न हो। वही गन्ने की ट्रैक्टर ट्रालियों पर रिफ्लेक्टर शुगर मिल में भी लगाए जाए रहे है। ताकि आता हुआ वाहन धुंध में दिखाई दे सके। बस, ट्रक, आटो, रेहड़ी सहित सभी वाहनों पर रिफ्लेक्टर लगाए जा रहे हैं।