News Description
होमगार्ड के जवानों ने किया प्रदर्शन, ऑनलाइन प्रक्रिया की मांग

सिरसा : ड्यूटी में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए सोमवार को होमगार्ड के जवानों ने कार्यालय के बाहर रोष प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की। वहीं रोष जता रहे होमगार्ड के जवानों ने ड्यूटी में ऑन लाइन प्रक्रिया लागू करने की मांग भी की।

हिसार रोड स्थित गृहरक्षी विभाग के कार्यालय में एकत्रित दो दर्जन होमगार्ड के जवानों में इस बात को लेकर भारी रोष रहा कि उनकी ड्यूटी नियमों के खिलाफ तय की जाती है। उनका आरोप था कि ड्यूटी प्रक्रिया में साठगांठ कर पैसे लेकर ही जवानों को ड्यूटी पर रखा जाता है। हालांकि हर 3 माह में सेक्शन बदला जाता है और इस दौरान नए होमगार्ड जवानों को ड्यूटी सौंपी जाती है। परंतु अनेक होमगार्ड के जवान 1 से 2 वर्ष तक घर बैठे हुए है, जिनकी कभी भी ड्यूटी नहीं लगी। हाल ही में सेक्शन के दौरान ऐसे जवानों को ड्यूटी पर रखा लिया गया जो पहले से ही ड्यूटी पर थे और उनमें से कुछ जिन्होंने पैसे दिए केवल उन्हीं का नाम लिस्ट में शामिल किया गया। सतपाल, रणजीत, सुनील कुमार, मुकेश, जसवंत, राजकुमार तथा विजय कुमार ने बताया कि उन्हें काफी समय से ड्यूटी पर नहीं रखा जा रहा है। अगर इस बात का विरोध तथा आवाज उठाने का प्रयास किया जाता है तो उन्हें अधिकारियों से नौकरी से हटाए जाने की चेतावनी मिलती है।

उन्होंने बताया कि काफी समय से वह बेरोजगार बैठे हुए है जिसकी चलते उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। उन्होंने बताया कि इस समय जिला में करीब साढ़े 7 सौ होमगार्ड है, जिनमें केवल 250 के करीब होमगार्ड से ड्यूटी ली जा रही है। प्रदर्शनकारी होमगार्ड के जवानों ने कहा कि 2017 में विभागीय अधिकारियों द्वारा बनाई गई लिस्ट पूरी तरह से गलत है जिसे रद्द किया जाए, तथा ऑफ लाइन की बजाय ऑन लाइन प्रक्रिया से ही होमगार्ड के जवानों की ड्यूटी लगे। ताकि इस प्रकार हो रहे भ्रष्टाचार पर अंकुश लग सके।