News Description
न्याययिक परिसर में तीसरी राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन

स्थानीय न्याययिक परिसर में तीसरी राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन जिला एवं सत्र न्यायधीश ललित बत्तरा के मार्गदर्शन में किया गया।  इस लोक अदालत में सभी तरह के मामले रखे गए, जिनमें वाहन दुर्घटना, बैंक संबंधी ,अपराधिक तथा बीमा कंपनी सम्बन्धी, वैवाहिक एवं पारिवारिक मामले शामिल थे। इस लोक अदालत में कुल 7 बैंच बनाए गए थे, जिनमें मोटर वाहन दुर्घटना के लिए इन्श्योरैंस कम्पनी से सम्बन्धित तीन बैंच शामिल थे। 

  इस संदर्भ में जानकारी देते हुए जिला एवं सत्र न्यायधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ललित बत्तरा ने बताया कि इस लोक अदालत में कुल 4177 मामलें रखे गए,जिनमें से 965 मामलों का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। इस दौरान मोटर वाहनों के 32 केसों का निपटारा किया गया तथा चैक बाउंस के 94 केस निपटाए गए। 

 उन्होंने बताया कि लोक अदालत का मकसद न्याय प्रक्रिया में तेजी लाना है जिससे लोगों को सुलभ और सरल तरीके से न्याय मिल सके। उन्होंने यह भी कहा कि लोक अदालत मे निर्णय दोनों पक्षों की रजामंदी से किए जाते हैं।