News Description
धुंध व कड़ाके की ठंड के साथ शुरू हुआ नव वर्ष का पहला दिन

सोनीपत : नव वर्ष का पहला दिन धुंध के साथ शुरू हुआ है। धुंध के साथ सर्दी में भी काफी इजाफा हुआ है। शीतलहर व कड़ाके की ठंड से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लोग ठंड की वजह से घर में दुबकने को विवश हो गए हैं। वहीं ठंड से आर्थिक गरीबों सहित फुटपाथ पर जीवन गुजर- बसर करने वाले लोगों की परेशानी बहुत अधिक बढ़ गई। धुंध के कारण जहां सड़कों पर वाहन रेंगते नजर आए, वहीं कई ट्रेनें भी घंटों लेट रही। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

पिछले तीन दिनों से ठंड व कोहरे का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। सोमवार को नए साल के पहले दिन क्षेत्र में घने कोहरे के साथ शीतलहर से जनजीवन प्रभावित हुआ। पारा भी तीन दिन से लुढ़कता जा रहा है। सोमवार को न्यूनतम तापमान करीब छह डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। अधिकतम तापमान भी 17 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। शीतलहर के साथ पछवा हवा पूरे दिन करीब आठ किलोमीटर प्रति घंटा की गति से बही। क्षेत्र में आ‌र्द्रता करीब 45 प्रतिशत रही। पूरे दिन ठीक से सूर्यदेव के दर्शन भी नहीं हुए। सुबह देर तक लोग घरों में दुबके रहे। ठंड के बढ़ने से लोगों के कामकाज में भी असर होने लगा है। खासकर मेहनतकश मजदूरों की परेशानी अधिक बढ़ गई है।

सरकारी व निजी कार्यालयों में पहुंचे अधिकारी व कर्मचारी पूरा दिन कंपकंपी से परेशान रहे। चाय की दुकानों पर दिनभर अधिक भीड़ देखने को मिली। शाम के समय ठंड का प्रकोप बढऩे से लोगों की परेशानी बढ़ गई। लोग जगह-जगह एकत्रित होकर अलाव जला कर ठंड से बचने का प्रयास भी करते नजर आए।