# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
नव वर्ष पर परिवार में आए नए सदस्य

फरीदाबाद: नव वर्ष पर कई महिलाओं ने समय से पूर्व डिलीवरी कराई है। जिन महिलाओं ने सोमवार को बच्चों को जन्म दिया है, वे इसे ईश्वर की ओर से नए साल का तोहफा मानती हैं। सरकारी अस्पताल में एक जनवरी को 15 महिलाओं ने बच्चों को जन्म दिया है तो सेक्टर-21ए के एशियन अस्पताल में तीन महिलाओं ने साल के पहले दिन मां बनने की चाह में सिजेरियन कराया। एशियन अस्पताल में एक जनवरी को पांच डिलीवरी हुई हैं। इनमें से 4 महिलाओं ने पहले ही इच्छा जता दी थी कि उनका बेबी नए साल के पहले दिन होना चाहिए। तीन महिलाओं की डिलीवरी इसी हफ्ते संभावित थी, लेकिन उन्होंने अपनी मर्जी से सिजेरियन की बात रखी। एक महिला की सामान्य डिलीवरी हुई है।

इंद्रा कांपलेक्स निवासी महेश कुमार ने बताया कि उनकी पत्नी नीता ने सोमवार सुबह बेटे को जन्म दिया है। वह चाहते थे कि उनकी संतान नए साल के पहले दिन जन्मे। नए साल पर बेटे के जन्म को वह प्रभु की कृपा मानते हैं।

कई बार महिला अपनी मर्जी की डिलीवरी की तारीख बताती हैं। नव वर्ष पर भी ऐसा ही हुआ। हम देखते हैं कि जच्चा-बच्चा को कोई जोखिम तो नहीं है। इसके बाद ही सिजेरियन किया जाता है।