News Description
प्रणामी आश्रम में पॉलीथिन फ्री अभियान चलाया

भिवानी : दादरी गेट क्षेत्र स्थित श्रीकृष्ण प्रणामी जनकल्याण आश्रम में सोमवार को नववर्ष के आगाज पर आध्यात्मिक प्रवचन व सत्संग समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा राष्ट्र भक्ति से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी प्रस्तुति दी गई। समारोह में दैनिक जागरण एवं जिला प्रशासन द्वारा चलाई गई पॉलीथिन मुक्त शहर अभियान के तहत सैकड़ों भक्तों को पॉलीथिन प्रयोग न करने के लिए राष्ट्रीय संत स्वामी सदानंद महाराज ने नववर्ष के उपलक्ष्य पर शपथ दिलाई। इस अवसर पर स्वामी सदानंद महाराज ने श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि यदपि ये भारतीय नव वर्ष नहीं है, तथापि हम लोग आज के दिन होटलों में जो नशा के माध्यम से नव वर्ष की शुरुआत करते हैं, उस परम्परा को रोकने के लिए आध्यात्मिक प्रवचन सत्संग एवं बुराइयों को छोड़ने का संकल्प दिलाने का प्रयास करते हैं। आज के दिन समर्थ लोगों को जरूरतमंद लोगों को वस्त्र दान देकर समाज में एकरूपता लाने का भी प्रयास करना चाहिए। स्वामी जी ने कहा कि भिवानी जिला प्रशासन द्वारा शहर को प्रदूषण रहित एवं पॉलीथिन मुक्त बनाने की दिशा में किए जा रहे प्रयास सराहनीय है। इस स्वच्छता अभियान में हम सभी को बढ़-चढ़ कर अपना सहयोग देना चाहिए। उन्होंने कहा कि हर साल सबसे अधिक गायों की मौत का कारण भी पॉलीथिन कचरा ही बनती है, इसलिए हम सभी जाने अनजाने में गौ हत्या के भागी भी बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि आप सभी शहर को प्रदूषण एवं पॉलीथिन मुक्त शहर बनाने का संकल्प लेकर यहां से जाएंगे और अभी से ही ये प्रयास करेंगे कि सार्वजनिक स्थलों पर किसी तरह की कोई भी गंदगी नहीं फैलाएंगे। उन्होंने कहा कि पॉलीथिन की थैलियों से होने वाली कैंसर जैसी भयानक बीमारियों से खुद को एवं औरों को बचाने के लिए इसका उपयोग नहीं करने का संकल्प ²ढ़ता से पालन करें। इस अवसर पर स्वामी सदानंद महाराज ने पॉलीथिन के विकल्प के रूप में 200 से अधिक कपड़े के थैले भी श्रद्धालुओं में वितरित किए। स्वच्छता अभियान को आध्यात्मिक मिशन से जोड़ने के सूत्रधार श्रीकृष्ण प्रणामी जनकल्याण ट्रस्ट के राष्ट्रीय सचिव एवं मीडिया प्रमुख डा. मुरलीधर शास्त्री कहा कि दैनिक जागरण व जिला प्रशासन द्वारा पॉलीथिन मुक्त शहर बनाने की मुहिम के सार्थक परिणाम आएं, इसके लिए शहर के प्रत्येक व्यक्ति को इस अभियान से जुड़कर अपना अमूल्य योगदान देना होगा। उन्होंने कहा कि पॉलीथिन कचरा कई मायनों में ना केवल मनुष्य के लिए हानिकारक है, बल्कि पर्यावरण के लिए भी भयावह स्थिति पैदा कर रहा है, इसके आगामी दुष्परिणामों को ध्यान में रखकर ही हमें इसकी रोकथाम के लिए अहम भागीदारी निभानी होगी। कार्यक्रम में स्वामी मुकुंद शरण महाराज, श्यामशरण, दीनदयाल, रमेश कुमार अग्रवाल, रमेश कुमार गर्ग, हनुमान प्रसाद तायल, जगदीश प्रसाद गोयल, सीताराम, सुरेश केडिया, राधाकृष्ण, कालीदास, राजेन्द्र शर्मा, प्रहलाद वर्मा, पंडित हरिचरण, विनोद तायल फतेहाबाद, रामप्रसाद बंसल दिल्ली, एसएन टेलटिया हिसार, मुन्ना शर्मा, नरेन्द्र शर्मा, प्रवेश गौत्तम, अनिल गौड़, नंदकिशोर अग्रवाल, मोहनलाल बुवानीवाला, डॉ. डीपी कौशिक सहित सैकड़ों गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।