# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
नए साल में नर्सिंग कालेज शुरू होने की उम्मीद

पलवल : जिले में स्वास्थ्य सेवाएं पहले की तुलना में काफी बेहतर हुई हैं। इनमें अभी काफी सुधार की गुंजाइश है। जिले के लोगों को स्वास्थ्य विभाग से नए वर्ष में काफी ज्यादा उम्मीदें हैं। लोगों को सबसे ज्यादा उम्मीद जिला नागरिक अस्पताल में कई महीनों से तैयार नर्सिंग कालेज को शुरू होने की है। इसके लिए स्टाफ की भर्ती भी अभी की जानी है। कालेज के शुरू हो जाने से नर्सिंग का कोर्स करने की इच्छा करने वालों को बेहद फायदा होगा। इसके अलावा स्वास्थ्य सेवाओं में गुणवत्ता भी बढ़ेगी।

नए साल में लोगों को उम्मीद है कि जिला अस्पताल में डायलिसिस सेवा भी शुरू हो जाएगी। इसे शुरू करने की घोषणा समय-समय पर होती रही है। अब इसे पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप योजना के तहत शुरू किया जाएगा। ऐसा होने से लोग फरीदाबाद व दिल्ली के अस्पतालों में जाने से बच जाएंगे। यहां यह सुविधा न होने से लोगों को मजबूरी में फरीदाबाद, गुरुग्राम व दिल्ली के महंगे अस्पतालों में जाना पड़ता है। इसके अलावा लोगों को अस्पताल में ही एमआरआइ कराने की सुविधा मिलने की उम्मीद है। इसे शुरू करने की चर्चाएं भी काफी दिनों से गर्म हैं।

लोगों को उम्मीद है कि नए साल में जिला नागरिक अस्पताल की क्षमता 100 बिस्तरों से बढ़ाकर 200 बिस्तर कर दी जाएगी। 100 बिस्तर काफी कम पड़ते हैं। ऐसा होने के बाद इस अस्पताल में इलाज कराने वालों की संख्या भी बढ़ जाएगी। जिला नागरिक अस्पताल तथा जिले के अन्य सरकारी अस्पतालों में स्टाफ की बेहद कमी है। इस कमीं को दूर होने की भी आशा है। नए साल में गांव मंडकौला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाया जा सकता है। इसका भवन भी तैयार है। इसी तरह गांव कलसाडा में नए भवन में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शुरू हो सकता है। बडौली में भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शुरू होने की आशा है