News Description
नववर्ष के उपलक्ष्य में हुआ खेड़ा जागरण, हवन एवं भंडारा

कुरुक्षेत्र : दर्रा खेड़ा सेवा समिति थानेसर की ओर से नगर खेड़ा पर नववर्ष के उपलक्ष्य में सभी नगरवासियों के कल्याण हेतु खेड़ा जागरण, पूजन, हवन एवं भंडारे का आयोजन हुआ। सुबह से ही बड़ी संख्या में पहुंचे नगरवासियों ने खेड़ा पूजन किया। आयोजन से जुड़े राजेश व अमरपाल ने बताया कि इस दौरान बाला सुंदरी जागरण मंडल एवं सागर म्यूजिकल ग्रुप के गायकों राजकुमार बाबा, शंकर सैनी, राजीव शर्मा, गोलू, काशी और सूरज ने नगर खेड़ा महाराज की शान में भजन प्रस्तुत करके समां बांधा। गायक मास्टर हरिप्रकाश शर्मा ने खेड़े की महिमा बताते हुए कहा कि खेड़ा महाराज साक्षात भगवान शंकर के शक्ति अवतार हैं। इन्हें ब्रह्मा, विष्णु, महेश एवं सभी देवी-देवताओं का वरदान प्राप्त है और सभी देवताओं के वरदान से यह गांव व नगर की रखवाली करते हैं।इन्हें कृषि और पशुधन का देवता भी माना जाता है। गांव व नगर में इनकी अनुमति के बिना कोई देवी-देवता व दुष्ट शक्तियां प्रवेश नहीं कर सकती। जनश्रुति है कि जिसका खेड़ा सिद्ध होता है, वह सर्वसंपन्न होता है और जिसका खेड़ा उलटा हो जाए, वह दु:खों को भोगता है। उन्होंने बताया कि सांड, बैल व नंदीगणों को खेड़े का विशेष अवतार माना जाता है। इनके रूप में खेड़े की पूजा की जाती है। शर्मा द्वारा सुनाए गए भजन क्षेत्रपाल खेड़ा बाबा हैं शिव के अंशावतारी., ओ खेड़े बाबा नगर के राजा तेरी महिमा अपरंपा.., जगत में डंका बाज रहा मेरे खेड़े महाराज का..और जिस दिन से मेरी लगन लगी खेड़े बाबा के दरबार में हो गया बलिहार मैं खेड़े के प्यार में. इत्यादि पर झूम उठे। इस मौके पर अश्वनी सैनी बंटी, शंकर सैनी, रमेश, सौरभ, काकू सैनी, शिवम सैनी, शीशपाल, शंकर, मोहन लाल, नरेंद्र, ओमप्रकाश, अशोक, रवि, मदन, नरेश भट्ट, सुखबीर, विनोद शर्मा, नीलकंठ शर्मा, शिवकुमार सैनी, हितेश सैनी, राजकुमार, विकास, शुभम, दीपक सैनी मौजूद रहे।