News Description
जनवरी के अंत तक ब्रह्मसरोवर का पानी होगा चलायमान : विधायक

कुरुक्षेत्र थानेसर के भाजपा विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि श्रीब्राह्मण एवं तीर्थोद्धार सभा की मांग पर उन्होंने ब्रह्मसरोवर के पानी को चलायमान करने की परियोजना शुरू कराई और नववर्ष के जनवरी के अंत तक ब्रह्मसरोवर का पानी चलायमान हो जाएगा। वे श्रीब्राह्मण एवं तीर्थोद्धार सभा द्वारा नवनिर्मित धर्मशाला रेणुका सदन में आयोजित नववर्ष मिलन समारोह में मुख्यातिथि के तौर पर शिरकत करने के दौरान बोल रहे थे। कुरुक्षेत्र वेद एवं संस्कृत विद्यालय के आचार्य नरेश के नेतृत्व में वेदपाठी ब्राह्मणों ने विधायक को मंत्रोच्चारण के साथ स्वागत किया।

उन्होंने कहा कि प्राचीन एवं ऐतिहासिक तीर्थ कालेश्वर के जीर्णोंद्धार के लिए भी 61 लाख रुपये की परियोजना हरियाणा सरकार से अनुमोदित कराकर कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड को भेजी जा चुकी है। उम्मीद है शीघ्र ही राज्यपाल की अध्यक्षता में केडीबी की बैठक होने पर यह परियोजना स्वीकृत हो जाएगी। इस अवसर पर सभा के मुख्य सलाहाकार जयनारायण शर्मा अधिवक्ता, प्रधान यशेंद्र शर्मा, पूर्व प्रधान श्रीप्रकाश मिश्रा, संरक्षक यशपाल शर्मा, केके कौशिक अधिवक्ता, डॉ. सतदेव शर्मा, प्रधान महासचिव रामपाल शर्मा, वरिष्ठ उपप्रधान पंडित पवन शर्मा पौनी, नगर पार्षद नितिन भारद्वाज लाली, केडीबी सदस्य राजेंद्र जोशी, श्याम गौतम, पृथ्वीनाथ गौतम अधिवक्ता ने उनका स्वागत किया। सभा की मांग पर सुधा ने आश्वासन दिया कि सभा के सेक्टर-8 में बनने वाली धर्मशाला का शिलान्यास मुख्यमंत्री मनोहर लाल से कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि ब्राह्मण एवं तीर्थोद्धार सभा नगर की सबसे प्राचीन एवं धार्मिक सभा है उन्हें यह जानकर अति प्रसन्नता हुई कि सभा द्वारा कर्मकांड की निशुल्क पाठशाला चलाई जा रही है जहां विद्यार्थियों के रहन और खानपान का प्रबंध सभा करती है। सुधा ने यह भी आश्वासन दिया कि उनके द्वारा रेणुका सदन के निर्माण के लिए पूर्व में घोषित 11 लाख रुपये की राशि शीघ्र ही सभा को भिजवा दी जाएगी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सभा के मुख्य सलाहकार जयनारायण शर्मा, पूर्व प्रधान पंडित श्रीप्रकाश मिश्रा तथा पूर्व प्रधान केके कौशिक ने कहा कि इस बात में कोई शक नहीं कि आज कुरुक्षेत्र में बड़ी तेजी से विकास कार्य हो रहे हैं। उन्होंने सभा की मांग पर ब्रह्मसरोवर के पानी को चलायमान करने की योजना शुरू कराने पर विधायक का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ब्राह्मणों का आशीर्वाद हमेशा सुभाष सुधा के साथ रहा है।