News Description
एमजी रोड पर चप्पे-चप्पे पर तैनात रही पुलिस

गुरुग्राम: नए साल के स्वागत का जश्न सुरक्षा के साये में मनाया गया। होटलों, रेस्टोरेंटों, पब एवं बार, पार्क आदि के सामने पुलिस की विशेष व्यवस्था की गई थी। ट्रैफिक का दबाव बढ़ने से सेक्टर 29 इलाके में शाम छह बजे के बाद ही जाम लगना शुरू हो गया था। देर रात तक ट्रैफिक का दबाव बना रहा। हालांकि सर्दी बढ़ने की वजह से पुलिस का काम काफी आसान हो गया। जितनी अपेक्षा थी, उतनी भीड़ नहीं दिखी।

रविवार दोपहर तीन बजे के बाद से ही नए साल के जश्न को देखते हुए जगह-जगह पुलिस तैनात हो गई थी। शाम छह बजे के बाद एमजी रोड, दिल्ली रोड, साइबर हब, सोहना रोड सहित कई इलाकों में पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया था। खासकर फाइव स्टार होटलों, रेस्टोरेंटों के साथ ही पब एवं बार के ऊपर विशेष नजर रखी गई। जश्न मनाने पहुंचे युवकों से पुलिसकर्मी शराब पीकर वाहन न चलाने की अपील करते रहे। एमजी रोड पर शाम से बाहरी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध की वजह से पूरा रोड खुला-खुला नजर आया। सहारा मॉल के आसपास सबसे अधिक रस दिखा। लोगों को परेशानी न हो इसके लिए लेजर वैली ग्राउंड में कैब उपलब्ध कराने वाली कंपनियों के लिए पार्किंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई थी। साइबर हब के नजदीक भी पार्किंग की सुविधा थी। एसीपी डीएलएफ अनिल यादव सहित कई अधिकारियों ने स्वयं मोर्चा संभाला। इसके बाद भी सेक्टर 29 इलाके में ट्रैफिक जाम की समस्या काफी देर तक बनी रही।

पुलिस की सख्ती से मेट्रो यात्रियों को हुई परेशानी

एमजी रोड पर बाहरी वाहनों के प्रवेश पर शाम सात बजे से प्रतिबंध लगाने की वजह से मेट्रो यात्रियों को काफी परेशानी हुई। एमजीएफ मेट्रो स्टेशन उतरने वाले यात्रियों को आगे जाने के लिए वाहन नहीं मिले। इससे परेशान यात्रियों ने पुलिस को जमकर कोसा। यात्रियों ने कहा कि जब एमजी रोड पर वाहनों के आने-जाने पर रोक लगानी थी फिर एमजीएफ मेट्रो स्टेशन को भी बंद कर देना चाहिए था। इससे वे लोग परेशान नहीं होते।

अग्निशमन विभाग की टीमों ने की जांच

रविवार को दूसरे दिन भी होटलों के साथ ही पब एवं बारों में आगजनी से संबंधित सुरक्षा को लेकर जांच की गई। सभी प्रतिष्ठानों के संचालकों से स्पष्ट रूप से कहा गया कि वे ना‌र्म्स का पालन करें, अन्यथा जांच के दौरान कमियां मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि मुंबई के एक पब एवं बार में आग लगने के बाद प्रदेश की शहरी विकास मंत्री कविता जैन ने सभी होटलों के साथ ही पब एवं बार की जांच करने का निर्देश दिया है।