# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
होटल प्रबंधकों ने निगम आयुक्त के खिलाफ खोला मोर्चा

पंचकूला : नगर निगम के आयुक्त राजेश जोगपाल द्वारा मुंबई के एक होटल में अग्निकाड के बाद एक लिस्ट जारी करके पंचकूला के पुलिस उपायुक्त को नववर्ष की पार्टी न होने देने के लिए चिट्ठी लिखने के बाद कई होटलों को नुकसान झेलना पड़ा है। जबकि कुछेक होटलों ने दावा किया है कि उनके पास फायर एनओसी होने के बावजूद जान-बूझकर उन्हे बदनाम करने की कोशिश की गई है।

दमकल अधिकारी की ओर से लगभग 22 होटलों की लिस्ट निगम आयुक्त को सौंपी गई थी, जिसके बाद निगमायुक्त राजेश जोगपाल ने यह लिस्ट डीसीपी पंचकूला को भेजते हुए इन होटलों में नववर्ष में एवं उसके बाद कोई भी कार्यक्रम पर रोक लगाने के लिए कहा था। निगम आयुक्त के खिलाफ होटल प्रबंधकों ने मोर्चा खोलने की बात कही है। उनका कहना है कि नववर्ष में खलल डाल दिया गया है।

राहुल गाधी ने बताया कि हमारा होटल लॉ फ्यूजन के नाम से जय सत्यम एंटरप्राइजेज के अंतर्गत काम करता है। पिछले पाच साल से दमकल विभाग चेकिंग के बाद इसी नाम से एनओसी रिन्यू करता है, इस साल की एनओसी 4 अप्रैल 2017 को रिन्यू करवाई थी, जोकि एक साल के मान्य है। परतु नगर निगम द्वारा जो लिस्ट जारी की गई, उसमें हमारा डालना साजिश लग रहा है, क्योंकि दमकल विभाग अच्छे से जानता है कि एनओसी लॉ फ्यूजन और जय सत्यम एंटरप्राइजेज के बैनर तले ही मागी जाती है, आज तक कभी संबंधित विभाग द्वारा इस संबंध में आपत्ति नहीं जताई गई।

होटल पेनिनसुला के एमडी पुनीत वालिया ने बताया कि अब नगर निगम के आयुक्त खुद को बचाने के लिए प्रयास कर रहे है। हमारा होटल पिछले 10 सालों से वालिया रेस्टोरेट एंड बैंक्वेट के नाम से ही फायर एनओसी ले रहा है, लेकिन आज तक कभी दमकल विभाग को होश नहीं आया। वालिया रेस्टोरेट एंड बैंक्वेट के नाम से ही एक्साइज, सेल्स टैक्स, जीएसटी है।

फर्म कोई भी हो सकती है और नाम होटल का यही है। निगम आयुक्त के खिलाफ कोर्ट में मानहानि भी की जाएगी। यह फर्म केवल बिजनेस पेनिनसुला के नाम कर रही है और बिल्डिग की फायर एनओसी भी इस फर्म के नाम से है।