News Description
जनता दरबार में विपुल गोयल ने सुनी लोगों की समस्याएं

 एनओसी देने में देरी करने की शिकायत पर उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री विपुल गोयल ने आज जिला नगर योजनाकार के एक जेई तथा एक पटवारी को निलंबित करने के आदेश दिए। गोयल आज यहां पंचायत भवन में जिला लोकसंपर्क एवं जनपरिवेदना समिति की मासिक बैठक में लोगों के परिवाद सुन रहे थे। 
इस जनपरिवेदना समिति की बैठक में कुल 15 मामले सुनवाई के लिए रखे गए। इनमें दसवें नंबर पर नरेश कुमार पुत्र बनवारीलाल निवासी जासावास ने शिकायत दी कि उन्होंने सलीमाबाद, महेंद्रगढ़ में 4 कनाल कृषि भूमि खरीदी थी। इसकी एनओसी लेने के लिए डीटीपीओ नारनौल के कार्यालय में अगस्त 2017 को सभी दस्तावेज पूरा करने के बाद फाइल जमा करवाई थी। उसके बाद संबंधित विभाग से एनओसी लेने गया तो फाइल रेवाड़ी भेजी गई बताया गया। 3 अक्टूबर को जब रेवाड़ी में संबंधित दफ्तर गया तो उन्होंने बताया कि फाइल यहां नहीं आई। इसके बाद वह दोबारा नारनौल डीटीपी कार्यालय गया तो उन्होंने आश्वास दिया कि दो-तीन दिन में एनओसी मिल जाएगी। इसके बाद भी संबंधित अधिकारियों ने उन्हेें एनओसी नहीं दी। 
इस पर कार्यवाही करते हुए आज वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने नारनौल डीटीपी कार्यालय के एक जेई तथा एक पटवारी को निलंबित करने के आदेश दिए। 
इसके अलावा सिहमा के सुमेर सिंह की शिकायत पर कार्यवाही करते हुए उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री ने पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिए कि संबंधित एसएचओ के खिलाफ तुरंत कार्रवाई करें। 
 गोयल ने अधिकारियों को स्पष्ट चेतावनी दी कि केंद्र व राज्य सरकार जीरो टोलरेंस की नीति पर चल रही है। अगर कहीं भी लोगों के काम में अधिकारी जानबूझकर देरी करेगा तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।