News Description
चोट लगने पर नहीं पहुंची प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी, अब कहा दोबारा देने होंगे ट्रायल

हिसार : विशाखापट्टनम में 19 से 20 दिसंबर तक ओपन सीनियर नेशनल बॉ¨क्सग चैंपियनशिप के लिए ट्रायल हुए थे, जिसमें साई सेंटर की खिलाड़ी पवित्रा का 60 किलोग्राम भारवर्ग में उत्तराखंड की खिलाड़ी प्रियंका चौधरी के साथ ट्रायल होना था, लेकिन घुटने में चोट लगने के कारण प्रियंका ट्रायल देने नहीं आई। पवित्रा का कहना है कि प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी न आने पर उसका चयन भी हो गया, लेकिन अब उन्हें सात दिन बाद फोन करके सूचना दी गई कि आपका प्रियंका के साथ दोबारा ट्रायल लिया जाएगा। ट्रायल के आधार पर प्रतियोगिता के लिए चयन किया जाएगा। पवित्रा नॉर्थ वेस्ट रेलवे जयुपर में क्लर्क है। पवित्रा का कैंप रोहतक में लगा हुआ था। प्रतियोगिता रोहतक में 6 जनवरी से 12 जनवरी तक आयोजित की जाएगी।

प्रियंका का कहना है कि रोहतक में लगे कैंप में ट्रे¨नग दे रहे कोच सागरमल धायल का 27 दिसंबर को फोन आया था। उन्होंने कहा कि अब तुम्हें प्रियंका के साथ दोबारा ट्रायल देना होगा। इस पर जब पवित्रा ने कोच से दोबारा ट्रायल क्यों लेने की बात कही तो उन्होंने कहा कि इस बारे में आप रेलवे बोर्ड में बात करें। उसके बाद पवित्रा ने रेलवे बोर्ड में बॉ¨क्सग टीम देख रहे कोच र¨वद्र से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि इस बारे में आप रेलवे बोर्ड दिल्ली में स्पो‌र्ट्स सेक्रेटरी रेखा यादव से बातचीत करे। जब पवित्रा ने स्पो‌र्ट्स सेक्रेटरी से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि आपको दोबारा ट्रायल देने होंगे। उसी आधार पर चयन किया जाएगा।

बॉक्स

पवित्रा की उपलब्धियां

- 2008 में एशियन बॉ¨क्सग चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल

- 2010 में एशियन बॉ¨क्सग चैंपियनशिप में कांस्य पदक

- 2011 में एशिया कप में सिल्वर मेडल

बॉक्स

प्रतियोगिता में मुझे बेस्ट टीमें उतारनी है। पवित्रा का प्रियंका चौधरी के साथ दोबारा ट्रायल लिया जाएगा। उसी आधार पर उसका चयन किया

जाएगा।