News Description
हर वर्ष 10 स्कूलों में आयोजित होगा रोल मॉडल कार्यक्रम : एसडीएम

गन्नौर: एसडीएम अजय मलिक ने कहा कि लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से शिक्षा विभाग ने रोल मॉडल कार्यक्रम की ओर कदम बढ़ाया है। प्रत्येक वर्ष खंड स्तर पर 10 राजकीय स्कूलों में इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में किसी भी क्षेत्र में कामयाबी हासिल करने वाली महिलाओं को लड़कियों के समक्ष रोल मॉडल के रूप में प्रस्तुत किया जाएगा, ताकि उनसे प्रेरणा लेकर लड़कियां उच्चतर शिक्षा की ओर आगे बढ़ें।

एसडीएम ने कहा कि इस प्रकार के आयोजन प्रेरणा का स्त्रोत बनते हैं। इससे लड़कियों में शिक्षा को लेकर जागरुकता पैदा होती है। सफल महिलाओं को देखकर लड़कियों में भी आगे बढ़ने का जज्बा पैदा होता है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में लड़कियों ने खुद को साबित किया है। किसी भी क्षेत्र में लड़कियां अब पीछे नहीं हैं। इसलिए लड़कियों को अवसर प्रदान किए जाने चाहिए। वहीं सर्व शिक्षा अभियान की ब्लाक रिसोर्स कॉर्डिनेटर विद्योत्मा व लेखाकार सहायक संदीप कुमार ने बताया कि लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रेरित करने के लिए रोल मॉडल योजना चलाई जा रही है।

चालू वित्त वर्ष के अंतर्गत विभिन्न 10 स्कूलों में सफल आयोजन किए जा चुके हैं, जिनमें बीडीपीओ पूनम चंदा व एडवोकेट उषा गहलावत को रोल मॉडल के रूप में प्रस्तुत किया गया था। अब आगामी वित्त वर्ष में इन कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।