News Description
गंदगी के ढेर पर बनाई जा रही थी बूरा

खरखौदा: स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शुक्रवार को फिरोजपुर बांगर औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक बूरा बनाने की फैक्ट्री पर छापा मारा। फैक्ट्री में फैली गंदगी व बूरा बनाने की विधि देखकर अधिकारी हैरान रह गए। यहां सफाई व्यवस्था पर कोई ध्यान नहीं दिया गया था। टीम ने मौके से चीनी व बूरा के सैंपल ले लिया, जिन्हें जांच के लिए लैब में भेजा जाएगा।

जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम को सूचना मिली थी कि फिरोजपुर बांगर औद्योगिक क्षेत्र में अवैध रूप से बूरा बनाने का धंधा चल रहा है। सूचना के आधार पर शुक्रवार को उप सिविल सर्जन डॉ. गीता दहिया ने एक टीम का गठन किया। यह टीम फैक्ट्री में छापा मारने के लिए पहुंची। यहां सफाई व्यवस्था के कोई इंतजाम नहीं मिले। इसके अलावा मौके पर काम कर रहे कारीगरों द्वारा गंदे माहौल में चीनी से बूरा बनाने के काम चल रहा था। यहां से टीम ने चीनी व बूरा के सैंपल लेकर सील किया और जांच के लिए लैब में भेजा दिया।

इसके अलावा विभाग की टीम ने जिस फैक्ट्री में छापा मारा उस पर गिरिराज ट्रेडर्स लिखा हुआ था। फैक्ट्री मालिक से जब संबंधी दस्तावेज मांगे गए तो वह मौके पर कुछ नहीं दिखा पाया। फैक्ट्री मालिक ने स्थायी कार्यालय दिल्ली में होने का हवाला देते हुए जल्द ही जरूरी दस्तावेज हाजिर करने की बात कही है।