News Description
क्लीनिकल बैठक में सब सेंटर की स्टेटस रिपोर्ट मांगी

पानीपत: सिविल अस्पताल स्थित डिस्ट्रिक्ट अर्ली प्रिवेंशन सेंटर में शुक्रवार को मासिक क्लीनिकल बैठक का आयोजन हुआ। 4 जनवरी को मनाए जाने वाले व‌र्ल्ड लेप्रोसी डे, 28 जनवरी को मनाए जाने वाले पोलियो दिवस पर चर्चा हुई। सिविल सर्जन डॉ. संतलाल वर्मा ने सीएचसी-पीएचसी के चिकित्सा अधीक्षकों से विभिन्न योजनाओं की प्रगति रिपोर्ट मांगी। हाई रिस्क प्रेग्नेंसी लिंक की जानकारी दी गई।

सिविल सर्जन ने बैठक में कहा कि जिला में संस्थागत प्रसव 94 प्रतिशत तक पहुंच गया है। बराबर आबादी वाले जिलों में पानीपत प्रदेश में अव्वल बन गया है। अब हाई रिस्क प्रेग्नेंसी महिलाओं के लिए एनआरएचएम की वेबसाइट पर एक लिंक बनाया गया है। इस लिंक पर प्रत्येक हाई रिस्क गर्भवती महिला का नाम, पता, फोन नंबर, गर्भ का कौन सा महीना आदि अपलोड किया जाएगा। लिंक पर स्थानीय के अलावा राज्य स्तर पर भी ध्यान रखा जाएगा, ताकि मातृ मृत्यु दर (एमएमआर) व शिशु मृत्यु दर (आइएमआर) कम किया जा सके। उन्होंने 10 फरवरी को मनाए जाने वाले डीवॉर्मिग दिवस पर 1 साल से 19 साल तक के प्रत्येक हर बच्चे-किशोर को एल्बेंडाजोल गोलियां खिलाने की तैयारी के निर्देश दिए । जिला के 9 सब सेंटर अपडेट होने हैं।

इनकी दशा रिपोर्ट समेत विभिन्न योजनाओं की प्रगति रिपोर्ट संबंधित अधिकारियों से मांगी गई। बैठक में डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. नवीन सुनेजा ने सरकार की गाइडलाइन की जानकारी चिकित्सकों को दी। इस मौके पर डॉ. मुनीष गोयल, डॉ. निशि जिंदल, डॉ. मुनीष पासी, डॉ. तनूजा, डॉ. कर्मवीर व डॉ. दिनेश दहिया आदि मौजूद रहे।