News Description
गन प्वाइंट पर लूटी चार दिन पहले खरीदी ब्रेजा कार

 गुरुग्राम: साइबर सिटी में कार लुटेरों का आतंक बढ़ता जा रहा है। प्रतिदिन शहर के किसी न किसी इलाके में बदमाश वारदात को अंजाम दे रहे हैं। पटौदी चौक के नजदीक बसई रोड पर बृहस्पतिवार देर रात बदमाशों ने न केवल कार सवार दो युवकों की गन प्वाइंट पर चेन छीनी बल्कि कार भी लूटकर फरार हो गए। यह वारदात पटौदी रोड पुलिस चौकी से कुछ ही दूरी पर हुई। इससे सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि बदमाशों के हौसले किस कदर बुलंद हो चुके हैं।

भिवानी निवासी अमन एक मोबाइल कंपनी में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत हैं। वह अपने दोस्त विशाल के साथ किसी काम से अपनी ब्रेजा कार से पालम विहार इलाके में बृहस्पतिवार को आए थे। देर रात वापस भिवानी लौट रहे थे। जैसे ही उनकी कार रात लगभग 12 बजे पटौदी चौक के नजदीक बसई रोड पर पहुंची, पीछे से आ रही बलेनो कार अचानक आगे आ गई। इस पर अमन ने कार रोक दी। कार रोकते ही बलेनो से दो युवक उतरे। दोनों के हाथ में पिस्टल थी। एक ने अमन पर जबकि दूसरे ने विशाल पर पिस्टल तान दी। सबसे पहले दोनों की चेन छीनी। फिर कार की चाबी छीन ली। इसके बाद दोनों को कार से उतरने के लिए कहा। एक बदमाश कार में बैठा और कार लेकर फरार हो गया।

पटौदी की तरफ फरार हुए बदमाश

कार लूटने के बाद बदमाश पटौदी की तरफ भागे। कार मालिक अमन ने रात लगभग सवा बारह बजे पुलिस को सूचना दी। दस मिनट बाद ही मौके पर पटौदी रोड चौकी पुलिस पहुंच गई। आसपास छानबीन करने के बाद भी कुछ पता नहीं चला। जांच अधिकारी एसआइ वीरेंद्र ने बताया कि पालम विहार से लेकर पटौदी चौक तक जहां भी सीसीटीवी लगे हुए हैं, उन्हें खंगाला जाएगा। इससे बलेनो कार उसमें सवार बदमाशों की पहचान हो सकती है।

चार दिन पहले ही खरीदी थी कार

अमन ने बताया कि उन्होंने चार दिन पहले ही नई ब्रेजा कार खरीदी थी। जरूरी काम से गुरुग्राम आया था। जरा भी अंदेशा नहीं था कि कार लूट की वारदात हो जाएगी। जिस तरीके से वारदात को अंजाम दिया गया, उससे साफ लगता है बदमाश बेखौफ हैं। सूचना देने के कुछ ही मिनट बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई थी लेकिन बदमाश काफी आगे निकल चुके थे। बता दें कि पिछले कुछ महीनों से शहर में वाहन लूट की वारदात काफी बढ़ गई है। दो दिन पहले ही बादशाहपुर से आगे बदमाशों ने एक बाइक लूट को अंजाम दिया।

शिवाजी नगर थाना पुलिस के साथ ही क्राइम ब्रांच की टीम भी जांच में लगी हुई है। जल्द ही आरोपियों की पहचान की जाएगी। पहचान होते ही दोनों को गिरफ्तार किया जाएगा। इस तरह वारदात न हो इसके लिए पुलिस की सक्रियता और बढ़ाई जाएगी।