News Description
एमडीयू ने विदेशी विद्यार्थियों के लिए शुरू किया नया प्रवेश पोर्टल

जागरण संवाददाता, रोहतक : महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (मदवि) ने विदेशी विद्यार्थियों को आकर्षित करने के लिए प्रवेश प्रक्रिया को आसान कर दिया है। इससे विदेशी विद्यार्थियों को यहां दाखिला लेने में ज्यादा भागदौड़ नहीं करनी पड़ेगी। उन्हें शैक्षणिक वीजा भी आसानी से मिल जाएगा। कुलपति प्रो. बीके पूनिया ने इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए नया प्रवेश पोर्टल शुरू कर दिया।

डीन, एकेडमिक एफेयर्स प्रो. अजय कुमार राजन ने बताया कि मदवि ने पहली बार विदेशी विद्यार्थियों की प्रवेश प्रक्रिया को डिजीटल बनाने की पहल की है। उन्होंने कहा कि विश्व के किसी भी देश से विद्यार्थी इस नए पोर्टल पर लॉगइन कर मदवि में प्रवेश ले पाएंगे। ये नया पोर्टल है- पोर्टल के तकनीकी पहलुओं बारे निदेशक, यूनिवर्सिटी कंप्यूटर सेंटर डॉ. जीपी सरोहा एवं टेक्निकल अस्सिटेंट विकास नागिल ने जानकारी दी।

इस पोर्टल लोकार्पण कार्यक्रम में रजिस्ट्रार जितेन्द्र भारद्वाज, शैक्षणिक शाखा अधीक्षक एलएल बतरा, निदेशक जनसंपर्क सुनित मुखर्जी, इंटरनेशनल स्टूडेंट्स संगठन के प्रतिनिधि कैएंगो टीमोथी, सेमबेन्या बेंजामिन तथा ओडेंरी फ्रेड, डॉं. नवीन कुमार, खैराती लाल, जयपाल राठी, आदि उपस्थित रहे। बता दें कि एमडीयू में पिछले कुछ वर्षों से विदेशी विद्यार्थियों की संख्या में काफी कमी आ गई थी। इसके पीछे कारण विदेशी विद्यार्थियों को दाखिला लिए बिना अपने देश से वीजा नहीं मिल पाता था। अब ऐसी प्रक्रिया शुरू की गई है कि विद्यार्थी आनलाइन एडमिशन लेकर उसके आधार पर शैक्षणिक वीजा ले सकेंगे। इससे यहां के विद्यार्थियों को भी शैक्षणिक व सांस्कृतिक आदान-प्रदान का अवसर मिलेगा। एमडीयू कई देशों के साथ शैक्षणिक समझौते कर चुका हैं।

जागरण संवाददाता, रोहतक : महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (मदवि) ने विदेशी विद्यार्थियों को आकर्षित करने के लिए प्रवेश प्रक्रिया को आसान कर दिया है। इससे विदेशी विद्यार्थियों को यहां दाखिला लेने में ज्यादा भागदौड़ नहीं करनी पड़ेगी। उन्हें शैक्षणिक वीजा भी आसानी से मिल जाएगा। कुलपति प्रो. बीके पूनिया ने इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए नया प्रवेश पोर्टल शुरू कर दिया। डीन, एकेडमिक एफेयर्स प्रो. अजय कुमार राजन ने बताया कि मदवि ने पहली बार विदेशी विद्यार्थियों की प्रवेश प्रक्रिया को डिजीटल बनाने की पहल की है। उन्होंने कहा कि विश्व के किसी भी देश से विद्यार्थी इस नए पोर्टल पर लॉगइन कर मदवि में प्रवेश ले पाएंगे। ये नया पोर्टल है- पोर्टल के तकनीकी पहलुओं बारे निदेशक, यूनिवर्सिटी कंप्यूटर सेंटर डॉ. जीपी सरोहा एवं टेक्निकल अस्सिटेंट विकास नागिल ने जानकारी दी। इस पोर्टल लोकार्पण कार्यक्रम में रजिस्ट्रार जितेन्द्र भारद्वाज, शैक्षणिक शाखा अधीक्षक एलएल बतरा, निदेशक जनसंपर्क सुनित मुखर्जी, इंटरनेशनल स्टूडेंट्स संगठन के प्रतिनिधि कैएंगो टीमोथी, सेमबेन्या बेंजामिन तथा ओडेंरी फ्रेड, डॉं. नवीन कुमार, खैराती लाल, जयपाल राठी, आदि उपस्थित रहे। बता दें कि एमडीयू में पिछले कुछ वर्षों से विदेशी विद्यार्थियों की संख्या में काफी कमी आ गई थी। इसके पीछे कारण विदेशी विद्यार्थियों को दाखिला लिए बिना अपने देश से वीजा नहीं मिल पाता था। अब ऐसी प्रक्रिया शुरू की गई है कि विद्यार्थी आनलाइन एडमिशन लेकर उसके आधार पर शैक्षणिक वीजा ले सकेंगे। इससे यहां के विद्यार्थियों को भी शैक्षणिक व सांस्कृतिक आदान-प्रदान का अवसर मिलेगा। एमडीयू कई देशों के साथ शैक्षणिक समझौते कर चुका हैं।