News Description
डिवाइडर विवाद की जांच के लिए पहुंची कमेटी

मार्केट कमेटी रोड पर बने डिवाइडर के विवाद की जांच के लिए बृहस्पतिवार को एसडीएम वीरेंद्र सांगवान की गठित चार सदस्यीय कमेटी मौके पर पहुंची। कमेटी के सदस्यों ने दुकानदारों और लोगों से बातचीत की। कमेटी के अधिकारी तहसीलदार वजीर ¨सह, मार्किट कमेटी सचिव दीपक कुमार, नगरपालिका सचिव पंकज जून व बीडीपीओ नरेश शर्मा मार्किट कमेटी रोड पर स्थिति का आकलन करने के लिए जैसे ही पहुंचे, इस रोड के अधिकतर दुकानदार व निवासी मौके पर जमा हो गए तथा इस डिवाइडर को जल्द से जल्द हटाने की बात की।

दुकानदारों ने कहा कि वह अवैध डिवाइडर को झेल रहे हैं। यह रोड इतना चौड़ा नहीं है कि इस पर डिवाइडर को रखा जाए। कम चौड़े इस मार्ग पर यह डिवाइडर होने से हर रोज यहां पर दुर्घटनाओं की संख्या बढ़ रही है। इस डिवाइडर के कारण सड़क न के बराबर रह गई है और यहां हर रोज जाम लगा रहता है। उन्होंने कहा कि इस डिवाइडर के कारण उनके काम धंधे चौपट हो चुके हैं।

दोनों पक्षों के बयान कलमबंद

कमेटी के अधिकारियों व लोगों की बैठक सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल कार्यालय में हुई। जहां पर अधिकारियों ने इस डिवाइडर के पक्ष व विपक्ष दोनों ही पक्षों बयान दर्ज किए। बताया जाता है कि इस दौरान कुल 55 लोगों ने अपने बयान दर्ज करवाएं, जिसमें से 54 बयान डिवाइडर तोड़ने के पक्ष में तथा एक बयान डिवाईडर को न तोड़ने के पक्ष में दर्ज हुआ। कुल मिलाकर बहुत बड़ा बहुमत इस डिवाईडर को तोड़ने के पक्ष में दिखा।