# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
स्टेशन मास्टर ने दिखाई इमानदारी, महिला को लौटाया पर्स

 रतिया: जहां लोग जरा सा भी सामान मिलने पर उसे अपना बना लेते है वहीं गांव जमालपुर शेखां रेलवे स्टेशन के स्टेशन मास्टर जितेंद्र कपूर ने एक महिला का रेलगाड़ी से गिरा रुपयों व जरूरी सामान का पर्स लौटाकर मानवता का परिचय दिया हैं। जितेंद्र कपूर को यह पर्स 25 दिसंबर को रेलवे ट्रैक के किनारे पड़ा मिला। जब उसने उसे वहां से उठाया तो उसमें दो-दो हजार रुपये की नकदी व सामान था। तब उसने सोचा कि अवश्य ही किसी यात्री का रात के समय चलती गाड़ी से पर्स गिर गया होगा। उन्होंने अपने साथी स्टेशन मास्टर हरभजन लूना को इसके बारे में जानकारी दी। उन्होंने पर्स खोला तो उसके अंदर चौदह हजार रूपये की नकदी, एटीएम कार्ड सहित अन्य जरूरी सामान था। तब उन्होंने दस्तावेजों को खंगाल उसमें पर्स मालिक का मोबाईल नंबर मिल गया। जब उन्होंने उक्त मोबाईल पर संपर्क किया तो वह एक हिमाक्षी नामक महिला ने उठाया जोकि देहरादून की रहने वाली थी। उसने उन्हें बताया कि वह हिसार के आरमी कैंपस में अपने परिवार के सदस्यों को मिलने आई थी और उसका पर्स चलती गाड़ी में गिर गया था। स्टेशन मास्टर ने महिला को वट्सअप के माध्यम से उसे पर्स दिखाया जिसे पहचानकर उसने हिसार में कार्यरत आरमी कैंपस में अपने पारिवारिक सदस्य कालीचरण जोशी को सूचित किया। बृहस्पतिवार को उक्त व्यक्ति जमालपुरशेखां के स्टेशन पर पहुंचा और उनसे मुलाकात की। उसके बाद उन्होंने उस महिला से बात कर पर्स उन्हें सौंप दिया। जिसपर हिसार से आए कालीचरण तथा महिला हिमाक्षी ने उनका आभार जताया।