# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
220 केवी बिजली सब स्टेशन के विरोध में जुटे ग्रामीण

 सांपला : नौनंद गांव में बृहस्पतिवार को प्रस्तावित 220 केवी बिजली सब स्टेशन के विरोध में एक पंचायत का आयोजन डीटीपीओ अर¨वद मलिक की अध्यक्षता में किया गया। पंचायत करीब एक बजे गांव की मुख्य चौपाल में शुरू हुई।

डीटीपीओ को ग्रामीणों ने बताया कि पिछली पंचायत के समय भी सब स्टेशन बनाने की बात हुई थी लेकिन ग्रामीणों के विरोध के चलते यह योजना सिरे नहीं चढ़ सकी। पंचायत बदलने के बाद वर्तमान सरपंच ने पूरे गांव व पंचायत सदस्यों को अंधेरे में रख गांव की 12 एकड़ जमीन बिजली विभाग के नाम रजिस्ट्री करवा दी। बाद में ग्रामीणों को पता चला तो सरपंच कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सकी। ग्रामीणों का कहना था कि उनको बिजली सब स्टेशन नहीं, रहने के लिए जमीन की आवश्यकता है।

गौरतलब है कि बुधवार को सैकड़ों ग्रामीण प्रस्तावित बिजली सब स्टेशन के विरोध में डीसी से मिले थे और बिजली विभाग के नाम कराई गई 12 एकड़ जमीन की रजिस्ट्री रद्द करवाने की मांग की थी। ग्रामीणों ने बुधवार को उपायुक्त डा. यश गर्ग को बताया था कि सरपंच प्रवीन कुमारी ने पूरे गांव व पंचायत को धोखे में रख जमीन की रजिस्ट्री करवाई है।

जिसके चलते पंचों ने ग्रामीणों के साथ विरोध करते हुए अपने पदों से त्यागपत्र देने की पेशकश की थी। ग्रामीणों का कहना है कि हम किसी भी सूरत में बिजली सब स्टेशन नहीं लगने देंगे, इसके लिए चाहे हमें कोई भी कुर्बानी देनी पड़े।